ALL political social sports other crime current
अधिकारी ईमानदारी से अपने दायित्वों का पालन कर व्यवस्था दुरूस्त करें-मदन कौशिक
March 13, 2020 • Sharwan kumar jha

हरिद्वार। शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक ने जिलाधिकारी सी.रविशंकर के साथ सीसीआर में बैठक कर जनपद में भूमिगत विद्युत लाइन, पेयजल, सीवर, गैस पाइप लाइन के निर्माण कार्यो की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान उन्होंने संबंधित अधिकारियों को आपस में समन्वय स्थापित कर कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अधिकारी ईमानदारी से अपने दायित्वों का पालन करते हुए सडक, बिजली, पानी की व्यवस्था को दुरूस्त करें। लोनिवि के अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि सडकांे पर चल रहे निर्माण कार्यो को समयानुसार से पूरा करे तथा गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखें। विद्युत विभाग के अधिकारियों से कहा कि मेन रोड पर तारें लटकी हुई है ओर उन पर ही मीटर लगा दिये गये है। इन्हे तत्काल ठीक किया जाए। उन्होने लोक निर्माण विभाग व नगर निगम के अधिकारियो को बरसात को देखते हुये रास्तो को तत्काल ठीक करने के निर्देश भी दिए। एनएच अधिकारियों को निर्देश दिये कि जटवाड़ा पुल से लेकर शांति कुंज तक सड़कों के गड्ढों को एक सप्ताह में भरें। उन्होंने कहा कि वे स्वयं स्थलीय निरीक्षण कर सड़कों की स्थिति देखेंगे यदि निर्धारित समयाविध में गड्ढे नहीं भरे गए तो सख्त कार्यवाही की जायेगी। बैठक के दौरान उन्होंने अधिकारियों से कार्यो मंे आने वाली समस्याओं की जानकारी भी ली। पावन धाम चैराहे पर जल भराव की स्थिति पर पानी की निकासी के लिए सख्त निर्देश देते हुए कहा कि इसका उच्च स्तर पर हल निकालें और जिलाधिकारी को अवगत करायें। बैठक में जिलाधिकारी सी.रविशंकर ने कहा कि कार्य के दौरान किसी विभाग द्वारा कोई पाइप लाइन टूटती है तो वो संबंधित विभाग के अधिकारियों को उसकी उसी समय पर सूचना दी जाए। संबंधित विभाग तत्काल कार्यवाही कर उसे ठीक करेगा। उन्होंने कहा कि विद्युत विभाग द्वारा कार्य पूर्ण करने पर उसी दिन से लोनिवि द्वारा कार्य शुरू कर दिया जाना चाहिये। जिलाधिकारी ने केबल नेटवर्क के तारो की समस्या को दूर करने के निर्देश भी दिये। बैठक में नगर आयुक्त नरेन्द्र भंडारी, अधिशासी अभियन्ता भूमिगत विद्युत लाइन पवन कुमार, अधीक्षण अभियन्ता एससी पाण्डेय, अधिशासी अभियन्ता पीडबल्यूडी दीपक कुमार, अधिशासी अभियन्ता जल निगम अजय कुमार, अधिशासी अभियन्ता पेलजल निगम मौ.मीसम, अधिशासी अभियन्ता अमृत योजना संजय सिंह, वैभव मित्तल एनएच सहित संबंधित अधिकारी व इंजीनियर उपस्थित रहे।