अघोषित डम्पिंग जोन को तत्काल रोकने की मांग
March 1, 2020 • Sharwan kumar jha

हरिद्वार। अघोषित डम्पिंग जोन के कारण क्षेत्रवासियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। बड़ी मात्रा में कूड़ा-करकट भगत सिंह चैक शहरी मार्ग पर लगाया जा रहा है। गंदगी के कारण टिबड़ी, शिवलोक, भगत सिंह चैक, मध्य हरिद्वार व भेल नागरिकों को सड़न, बदबू का सामना करना पड़ रहा है। शहरी क्षेत्र में अघोषित डम्पिंग जोन होने के कारण टिबड़ी व शिवलोक क्षेत्र के निवासी बीमारियों के चपेट में आ रहे हैं। क्षेत्र के लोगों का कहना है कि एकत्र कूड़े से सड़न, बदबू घरों तक पहुंच रही है जिसकी वजह से घरों में रहना भी मुश्किल हो गया है। अनूप सिंह सिद्धू का कहना है कि भगत सिंह चैक मार्ग के समीप भारी मात्रा में कूड़ा एकत्र किया जा रहा है। शहरी क्षेत्र में अघोषित डम्पिंग जोन बनाया दिया गया इस ओर कोई भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है। नगर निगम के अधिकारियों को इस ओर ध्यान देने की आवश्यकता है। कूड़े-करकट के कारण दर्जनों आवारा पशु कूड़े के आस-पास जमा हो जाते हैं। स्वास्थ्य विभाग भी इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा है। संक्रामक रोग फैलने की संभावना बनी हुई है। टिबड़ी, शिवलोक, भगत सिंह चैक, चन्द्रचार्य चैक के व्यापारियों को भी असुविधाएं झेलनी पड़ रही है। संक्रामक रोग फैलने की पूरी संभावनाएं बनी हुई है। चन्द्राचार्य चैक व्यापार मण्डल के अध्यक्ष मृदुल कौशिक का कहना है कि शहर के बीचो बीच अघोषित डम्पिंग जोन बना दिया गया है। अधिकारियों के लापरवाही पूरी तरह से नजर आ रही है। आवारा पशु कूड़े में रात-दिन मुंह मारते रहते हैं। आस-पास के नागरिक नरकीय जीवन जीने को मजबूर है। विभागीय अधिकारियों की लापरवाही का खामियाजा क्षेत्रवासियों को झेलना पड़ रहा है।