अखाड़ा परिषद अध्यक्ष से की खनन चुगान खुलवाने की मांग
March 16, 2020 • Sharwan kumar jha

हरिद्वार। हरिद्वार स्टोन क्रेशर वेलफेयर एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने निरंजनी अखाड़ा पहुंचकर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज से मुलाकात की। स्टोन क्रेशर कारोबारियों ने खनन चुगान खोले जाने की मांग की। अध्यक्ष निशांत भैरव ने कहा कि स्टोन क्रेशर मालिक खनन चुगान नीति बनाए जाने की मांग करते चले हैं। सरकार को राजस्व हानि झेलनी पड़ रही है। बाहरी राज्यों से अवैध रूप से रेत बजरी बेरोकटोक प्रदेश में आ रहा है। जिससे स्थानीय खनन कारोबारियों का कारोबार पूरी तरह चैपट हो रहा है। क्रेशर मालिकों को आर्थिक नुकसान झेलना पड़ रहा है। कई दिनों से क्रेशर मालिक ठोस खनन चुगान नीति बनाए जाने की मांग कर हैं। लेकिन सरकार कुछ सुनने को तैयार नहीं है। स्टोन क्रेशर मालिक अवैध रूप से संचालित क्रेशरों से मानसिक व आर्थिक परेशानी झेलते चले आ रहे हैं। सरकार को जल्द से जल्द खनन चुगान की नीति को ठोस तरीके से बनाना चाहिए। अखाड़ा परिषद अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज ने क्रेशर मालिकों को आश्वासन देते हुए कहा कि वैज्ञानिक आधार पर ठोस खनन नीति बनाकर ही खनन चुगान की अनुमति सरकार द्वारा प्रदान की जानी चाहिए। रेत बजरी नहीं मिलने से कुंभ के विकास कार्यो में भी अवरोध पैदा हो रहा है। सरकार को खनन चुगान नीति को प्रभावी रूप से लागू कराना चाहिए। उन्होंने कहा कि जल्द ही इस संबंध में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से भेंटवार्ता कर समस्या का समाधान कराया जाएगा। इस दौरान अतुल श्रीवास्तव, सन्नी कपूर, सौरभ गोयल, अक्षत कुमार, संजय धींगड़ा, विनय चैधरी, अंकुर जैन, पवन सरदार, सुरेश प्रधान आदि मौजूद रहे।