ALL political social sports other crime current religious administrative
बैंक मित्र के भाई की गोली मारकर हत्या,पुलिस जांच में जुटी
June 13, 2020 • Sharwan kumar jha • crime

आशंका लूट के इरादे से हुई हत्या,मृतक के पास से नही मिली रकम

हरिद्वार। जनपद के भगवानपुर क्षेत्र में बदमाशों ने शनिवार दोपहर एक बैंक मित्र के भाई की गोली मारकर हत्या कर दी। युवक की बाइक पास में ही पड़ी थी, सूचना मिलते ही एसएसपी सहित पुलिस अधिकारियों ने मौके पर पहुचकर घटना स्ािल का निरीक्षण करते हुए मामले के सम्बन्ध में जानकारी ली। पुलिस के अनुसार मृतक के पास कोई रकम नहीं मिली। आशंका जताई जा रही है कि बदमाशों ने लूट के इरादे से हत्या की है। हत्या की घटना से देहात में दहशत का माहौल है। पुलिस के अनुसार पड़ोसी जनपद सहारनपुर उत्तर प्रदेश के कोतवाली देहात क्षेत्र के ग्राम लडवा निवासी बिलाल अहमद के भाई अफजाल ने भगवानपुर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में लोगों के पैसे जमा कराने के लिए फ्रेंचाइजी ले रखी है। बैंक के सेंटर का कार्यालय भगवानपुर थाना क्षेत्र के मानकमाजरा चैक के पास है। इस सेंटर की देखरेख बिलाल अहमद करता है। शनिवार की दोपहर को करीब ढाई बजे बैंक का सेंटर बंद करके बाइक से घर जा रहा था। शाम करीब सवा तीन बजे जैसे ही वह बहबलपुर गांव के कब्रिस्तान के पास पहुंचा, तो अज्ञात बदमाशों ने उसकी पीठ में गोली मार दी। पीठ में गोली लगने पर बिलाल अहमद सड़क किनारे गिर गया। बदमाशों की गोली बिलाल अहमद के शरीर के आरपार हो गई। वारदात को अंजाम देकर बदमाश वहां से फरार हो गए। कुछ देर बाद वहां से जा रही महिलाओं ने उसे लहूलुहान हालत में देख शोर मचा दिया। इसके बाद ग्रामीण वहां पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। बिलाल अहमद को करौंदी स्थित एक निजी अस्पताल ले जाया गया। यहां पर हालत गंभीर होने पर उसे सिविल अस्पताल ले जाया गया, जहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। हत्या की सूचना से क्षेत्र में हड़कंप मच गया। पुलिस ने मृतक के स्वजनों को घटना की सूचना दी। आशंका जताई जा रही है कि बिलाल सेंटर से रकम लेकर निकला था। इसी रकम के लिए हत्या करने की आशंका जताई जा रही है। मृतक के पास कोई बैग या रकम नहीं मिली है। मानकमाजरा गांव के चैक पर एसबीआइ का सेंटर है। बिलाल अहमद ही सेंटर का संचालन कर रहा था। बताया जा रहा है कि बिलाल को एक नया काउंटर खोलना था। इसके लिए बैंक अधिकारियों ने शुक्रवार को यहां का निरीक्षण भी किया था। भगवानपुर एसबीआइ के प्रबंधक नरेंद्र सिंह तोमर ने बताया कि एक दिन पहले ही उन्होंने सेंटर का निरीक्षण किया था। उनके मुताबिक बिलाल अहमद सीधा-सादा और मिलनसार युवक था। इस सेंटर से रोजाना दो लाख रुपये जमा होते थे। दूसरे शनिवार के चलते बैंक बंद था, इसलिए कहा नहीं जा सकता कि उसके पास कितने पैसे थे। यह पुलिस जांच के बाद ही पता चलेगा। दूसरी ओर एसएसपी डी. सैंथिल अवूदई  कृष्णराज एस और एसपी देहात एसके सिंह ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। एसपी देहात एसके सिंह ने बताया कि अभी तक लूट की बात सामने नहीं आई है। पुलिस हर बिंदु पर जांच कर रही है। पुलिस ने बैंक के सेंटर के पास लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज भी खंगाली है, जिससे पता चल सके कि कोई रैकी तो नहीं कर रहा था। पुलिस को शक है कि हत्या के तार देहात क्षेत्र से ही जुड़े हैं। पुलिस ने घटनास्थल से मोबाइल का सैल डाटा लिया है।