ALL political social sports other crime current religious administrative
भाजपा नेताओं द्वारा प्रदेश अध्यक्ष द्वारा खाद्य वितरण को नौटंकी बताने वाले बयान की निन्दा
June 13, 2020 • Sharwan kumar jha • political

हरिद्वार। मेयर प्रतिनिधि संगम शर्मा ने भाजपा जिलाध्यक्ष डा.जयपाल सिंह व जिला महामंत्री विकास तिवारी के बयान की निन्दा करते हुए कहा कि भाजपा नेता औछी राजनीति करने में लगे हुए है। लाॅकडाउन के दौरान कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने सेवा के क्षेत्र में अनुकरणीय योगदान दिया। जरूरतमंदों को भोजन के साथ-साथ खाद्य सामग्री भी कांग्रेसी कार्यकर्ताओं द्वारा लगातार वितरित की गई। लेकिन भाजपा के जिलाध्यक्ष डा.जयपाल सिंह व जिला महामंत्री विकास तिवारी मात्र राजनैतिक बयान देकर लोगों को गुमराह करने का काम कर रहे है। हरिद्वार की जनता सब कुछ जानती है। संगम शर्मा ने कहा कि कांग्रेसी कार्यकर्ताओं द्वारा लगातार लाॅकडाउन व अनलाॅक के दौरान गरीब असहाय, निर्धन परिवारों की मदद की है। अपनी छवि चमकाने व कांग्रेस की छवि को धूमिल करने के उद्देश्य से भाजपा नेता झूठे बयान दे रहे हैं। संगम शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि पूर्व पालिकाध्यक्ष सतपाल ब्रह्मचारी द्वारा उत्तरी हरिद्वार क्षेत्र में जरूरतमंदों की सेवा के लिए बड़े स्तर पर अभियान चलाया। गरीब, जरूरतमंदों, प्रवासियों को भोजन के साथ राशन भी दिया गया। शिवालिक नगर में इंदिरा अम्मा रसोई के माध्यम से महेश प्रताप राणा ने गरीब जरूरतमंदों को भोजन उपलब्ध कराया। उन्होंने स्वयं ग्राम सीतापुर में गरीब, असहायों की मदद के लिए जनता रसोई का संचालन कर भोजन उपलब्ध कराया। भेल श्रमिक नेता राजबीर चैहान, अंकित चैहान, पूर्व पार्षद संजय शर्मा, पार्षद प्रतिनिधि शहाबुद्दीन अंसारी, हाजी नईम कुरैशी, मकबूल कुरैशी, पार्षद अनुज सिंह, अमन गर्ग, सुनील कड़च्छ आदि कार्यकर्ताओं द्वारा भी विभिन्न क्षेत्रों में गरीब, असहाय, निर्धन परिवारों को भोजन के साथ-साथ खाद्य सामग्री वितरित करने का काम किया गया। पूर्व विधायक अम्बरीष कुमार, बादल गोस्वामी, सुमित तिवारी, राजीव शर्मा गौड़ ने भी लाॅकडाउन में दिन रात निराश्रितों को मदद पहुंचाने का काम किया। लेकिन भाजपा जिलाध्यक्ष डा.जयपाल सिंह व जिला महामंत्री विकास तिवारी झूठी बयानबाजी कर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं पर सवाल खड़े कर रहे है। जो लोग सेवा के क्षेत्र में अपना योगदान दे रहे है। उनका उत्साह व मनोबल बढ़ाने के बजाए झूठी बयानबाजी कर सस्ती लोकप्रियता हासिल करने प्रयास किया जा रहा है। ऐसे बयानों की जितनी भी कड़े शब्दों में निन्दा की जाये उतना कम है। दूसरी ओर कोरोना आपदा के दौरान राशन वितरण को लेकर भाजपा-कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है। भाजपा कार्यकर्ताओं के सवाल उठाने के अगले ही दिन कांग्रेसी पार्षदों ने पलटवार किया। उन्होंने भाजपा नेताओं से सवाल किया है कि कांग्रेसी संत ने कितने ट्रक राशन कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक को दिए हैं, और यह राशन किसने बांटा है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने शुक्रवार को हरिद्वार में राशन वितरण किया था। भाजपा कार्यकर्ताओं ने इस पर सवाल उठाए थे। शनिवार को हाजी शाहबुद्दीन अंसारी, इसरार सलमानी, महावीर वशिष्ठ, तहसीन, कैलाश भट्ट, राजीव भार्गव, अमन गर्ग, सदीक गाड़ा, जफर अब्बासी, सुहेल कुरैशी,रियाज मन्नू, मेहरबान खान, अनुज सिंह, शौकीन,उदयवीर चैहान आदि पार्षदों ने सयुंक्त रूप से जवाब दिया। मीडिया को जारी बयान में कांग्रेसी पार्षदों ने कहा कि प्रशासन की ओर से बांटा गया राशन मंत्री होने के नाते मदन कौशिक ने अपने कार्यकर्ताओं से वितरित कराया।