ALL political social sports other crime current religious administrative
भाजपा पार्षदों ने मेयर पर लगाया लापरवाही का आरोप,नाकामी के कारण डेंगू का प्रकोप बढ़ा
August 19, 2020 • Sharwan kumar jha • political

हरिद्वार। केन्द्र व प्रदेश सरकार के प्रयासों से जहां उत्तराखण्ड में कोरोना महामारी के प्रभाव को सीमित किया गया वहीं हरिद्वार की मेयर की लापरवाही व अकुशलता से डेंगू व मलेरिया ने पांव पसार लिये है। भाजपा पार्षद निरन्तर शहर में कीटनाशक दवाओं व चूने के छिड़काव की मांग कर रहे हैं। जन समस्याओं पर ध्यान देने के स्थान पर मेयर व मेयरपति राजनीतिक ड्रामेबाजी में व्यस्त हैं। यह विचार भाजपा पार्षद दल के उपनेता राजेश शर्मा ने उत्तरी हरिद्वार में भाजपा पार्षदों की बैठक को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किये। राजेश शर्मा ने कहा कि मेयर की लचर कार्यप्रणाली का खामियाजा शहर की जनता को भुगतना पड़ रहा है। पूर्व मण्डल अध्यक्ष व उपनेता अनिरूद्ध भाटी ने कहा कि मेयर अनीता शर्मा नगर निगम के संचालन में विफल साबित हुई हैं। कोरोना महामारी के पश्चात अब डेंगू व मलेरिया ने भी शहर में दस्तक दे दी है। यह आपदा काल घटिया राजनीति का नहीं अपितु शहर की सेवा का है। मेयर को सभी वार्डों में युद्ध स्तर पर अभियान चलाकर सघन सफाई व कीटनाशक दवाओं के छिड़काव का निर्देश देना चाहिए। यदि मेयर दवाओं का छिड़काव कराने में भी अक्षम है तो भाजपा पार्षद कार्यकत्र्ताओं के साथ मिलकर सभी 60 वार्डों में सफाई अभियान चलायेंगे। वरिष्ठ पार्षद अनिल मिश्रा ने कहा कि अपने पति के दवाब के चलते मेयर नगर निगम का संचालन नहीं कर पा रही हैं। अपनी विफलताओं का दोष शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक पर लगाने के स्थान पर उन्हें अपने कर्तव्य का निर्वहन करते हुए सफाई व पथ प्रकाश व्यवस्था को दुरूस्त करना होगा। पार्षद प्रतिनिधि विदित शर्मा ने कहा कि शहर की पथ प्रकाश व्यवस्था बदहाल स्थिति में है। बोर्ड में प्रस्ताव पारित होने के बावजूद चार महीने में भी स्ट्रीट लाईट की व्यवस्था नहीं की गयी है। पार्षद विनित जौली व ललित सिंह रावत ने कहा कि कांग्रेसजनों को अपनी आंखांे को ईलाज कराना होगा। कांग्रेस के शासन में हरिद्वार में एक भी विकास का कार्य नहीं हुआ। बैठक में मुख्य रूप से विकास कुमार विक्की, मोनिका सैनी, ललिता चैहान, पिंकी चैधरी, विवेक उनियाल समेत अनेक पार्षद उपस्थित रहे।