ALL political social sports other crime current religious administrative
भारतीय मजदूर संघ लाॅकडाउन खुलने के बाद श्रमिक हितों के लिए करेगा आंदोलन
May 27, 2020 • Sharwan kumar jha • administrative

हरिद्वार। भारतीय मजदूर संघ (बीएमएस) लॉकडाउन खुलते ही श्रमिकों के हितों के लिए आंदोलन शुरू करेगा। इसमें सड़क पर उतरकर धरना-प्रदर्शन करने से लेकर अधिकारियों का भी घेराव किया जाएगा। संगठन पदाधिकारियों ने कहा कि श्रमिकों का उत्पीड़न किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। बुधवार को वर्ल्ड बैंक कॉलोनी स्थित कैंप कार्यालय पर श्रमिकों की समस्या सुन रहे भारतीय मजदूर संघ के जिला महामंत्री सुमित सिघल ने यह बात कही। इस दौरान सिडकुल के विभिन्न फैक्ट्रियों में काम करने वाले श्रमिकों ने बताया कि वह एक ही फैक्ट्री में कई-कई वर्षों से काम कर रहे हैं, लेकिन उन्हें दो महीने का वेतन नहीं दिया गया है। और न ही उन्हें काम पर बुलाया जा रहा है। जब भी वह वेतन के लिए प्रबंधन के पास जाते हैं तो उन्हें डांट फटकार कर भगा दिया जाता है। आरोप लगाया कि श्रम कार्यालय में भी उनकी कोई सुनवाई नहीं हो पा रही है। श्रमिकों की समस्याएं सुनकर जिला महामंत्री ने कहा कि फैक्ट्री प्रबंधन की मनमानी के चलते श्रमिकों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। श्रम अधिकारी श्रमिकों को न्याय नहीं दिला पा रहे हैं। इसलिए अब लॉकडाउन समाप्त होते ही श्रमिकों को इंसाफ दिलाने के लिए बड़ा आंदोलन शुरू किया जाएगा। साथ ही श्रम मंत्री को ज्ञापन दिया जाएगा, जिससे श्रमिकों को उनका हक मिल सके। इस मौके पर भारतीय मजदूर संघ के अनिल राठी, डीसी नौटियाल, हरीश तिवारी, सुनीता तिवारी, दीपमाला समेत श्रमिक प्रियंका, ममता, मुन्नी देवी आदि ने भी अपनी समस्याएं रखी।