ALL political social sports other crime current religious administrative
भूखे को भोजन और प्यासे को जल देना ही भगवान की सबसे बड़ी पूजा
April 29, 2020 • Sharwan kumar jha • social

हरिद्वार। श्री राधा कृष्ण धाम के परमाध्यक्ष पूर्व पालिका अध्यक्ष स्वामी सतपाल ब्रह्मचारी ने कहा है कि भूखे को भोजन और प्यासे को जल देना ही भगवान की सबसे बड़ी पूजा है। राधा कृष्ण धाम लाॅकडाउन शूरू होने के बाद से ही संपूर्ण हरिद्वार क्षेत्र में भोजन के पैकेट वितरण की व्यवस्था कर रहा है। जो 8 मई तक अनवरत जारी रहेगी। जिन लोगों के पास बनाने की व्यवस्था है। उनको एक से 3 मई तक कच्चे राशन का वितरण किया जाएगा। राशन वितरण व भोजन सेवा में सहयोग करने वाले संतों तथा समाज सेवियों का आभार व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि आपातकाल में ही समाज को सहयोग की आवश्यकता होती है और सामाजिक तथा राजनीतिक कार्यकर्ता होने के नाते मैं अपने कर्तव्य का निर्वाह कर रहा हूं। स्वामी सतपाल ब्रह्मचारी की सेवा भावना की प्रशंसा करते हुए महामंडलेश्वर स्वामी चेतनानंद उदासीन तथा महामंडलेश्वर स्वामी कमलानंद गिरि ने कहा कि हरिद्वार के आश्रमों में लगभग पाँच सौ अन्न क्षेत्र चल रहे थे। जिनको प्रशासन ने बंद करवा दिया है। जिससे बड़ी संख्या में जनता भूखमरी के कगार पर आ गई थी। स्वामी सतपाल ब्रह्मचारी ने जनता के दर्द को समझते हुए पका हुआ भोजन प्रदान करने की शुरूआत की। जिसकी सर्वत्र सराहना हो रही है।