ALL political social sports other crime current
चैत्रनवरात्रा के पहले दिन मन्दिरों में सन्नाटा,लोगों ने की घरों में पूजा अर्चना,घट स्थापना
March 25, 2020 • Sharwan kumar jha

हरिद्वार। चैत्र नवरात्रा के पहले दिन लोगों ने पूरी श्रद्वा के साथ नौ दिनों के अनुष्ठान की शुरूआत की। देश मे कोरोना वायरस के चलते जारी लाॅकडाउन के कारण संभवतः यह पहला मौका है जब लोगों द्वारा अपने अपने घरों में देवी की पूजा अर्चना कर रहे है,जबकि तीर्थनगरी के शक्ति की अधिष्ठात्री के मन्दिरों में पूरी तरह से सन्नाटा है। बुधवार को बड़ी संख्या में लोगों ने चैत्रनवरात्रा के पहले दिन विधि विधान से देवी दुर्गा की पूजा अर्चना कर अनुष्ठान प्रारम्भ किये,इसके साथ ही श्रद्वालुओं ने नौ दिन के नवरात्रि व्रत की शुरुआत की। नवरात्र के पहले दिन श्रद्धालुओं ने देवी के निमित्त व्रत रखा और घरों में घट स्थापना कर मां दुर्गा की आराधना की। पूजा अर्चना के दौरान श्रद्धालुओं ने परिवारों में खुशहाली व सुख समृद्धि की कामना के साथ मां दुर्गा से कोरोना संकट से निजात दिलाने के लिए भी प्रार्थना की।  कोरोना के चलते देशभर में लॉकडाउन को देखते हुए लोगों से प्रशासन ने नवरात्रि पर मंदिरों की बजाए इस बार घर पर ही अनुष्ठान की अपील की थी। बुधवार को दुकानों पर सुबह खरीदारी के लिए मिली छूट के दौरान दुकानों के आगे भीड़ लगी रही,जबकि विभिन्न मंदिरों में सन्नाटा रहा। सुबह लोगों ने बाजारों से खरीदारी की और घरों में पूजा अर्चना की।  प्रशासन ने भी धर्मों के लोगों से मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा, चर्च न जाकर घर पर ही धार्मिक अनुष्ठान की अपील की। इसके चलते इस अपील का असर भी देखने को मिला और मंदिरों में श्रद्धालु नजर नहीं आए। पहले दिन मां शैलपुत्री की लोगों ने पूजा अर्चना की। शहरभर के मंदिर मां मनसा देवी, मायादेवी, चंडी देवी, सुरेश्वरी देवी में पुरोजियों ने पूजा अर्चना की। कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए सभी मंदिरों को बंद किया गया है। नवरात्रों के दौरान मंशा देवी, चण्डी देवी, मायादेवी, श्री दक्षिण काली मंदिर सहित तमाम मंदिरों में बड़ी संख्या में श्रद्धालु दर्शनों के लिए पहुंचते हैं। भीड़ जुटने से एक दूसरे के संपर्क में आने से कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव का खतरा है। इसलिए एहतियातन मंदिरों को बंद किया गया है। प्रशासन के अलावा तमाम समाजसेवियों ने लोगों से घरों में रहकर ही नवरात्र मनाने की अपील की है। लाॅकडाऊन का पालन करते हुए इस संकट से निपटने में सरकार का सहयोग करें।