चन्दन तिलक के बाद पुष्प वर्षा कर मनाई होली
March 11, 2020 • Sharwan kumar jha

हरिद्वार। होली के पावन पर्व पर गायत्री बन माला मंडल श्रवण नाथ नगर में गायत्री संस्कार शाला के बालक बालिकाओं द्वारा होली पर्व को अनुष्ठान्न के साथ सम्पादित किया। सर्वप्रथम बालक बालिकाओं ने वेद ऋचाओं तथा गायत्री मंत्र का वाचन किया। तत्पश्चात गुरुदेव के चित्र पर व चन्दन तिलक व् पुष्पअंजलि अर्पित की। मंडल की अधिष्ठात्री श्रीमती कुसुम त्रिखा को चन्दन तिलक कर पुष्पवर्षा से होली पर्व का विधिवत शुभारम्भ किया। ,बालक बालिकाओं ने एक दूसरे को चन्दन के लेप से टीका किया और पुष्प वर्षा की साथ ही कृष्ण राधा और गोपियों के रूप में रास रचा कर होली खेली। इस अवसर पर श्री मति कुसुम त्रिखा ने कहा होली एक दूसरे से मिलन का पाव्न पर्व है इस पवित्र दिन आपस में बैर भाव भुला कर एक दूसरे से प्रेम सौहार्द से मिलने की प्रथा है, दूषित और रासायनिक रंगों से परहेज करना चाहिए और एक दूसरे को सुंगधित पुष्पों से और चन्दन तिलक लगा कर ही सद्भाव पूर्वक त्यौहार मनाना चाहिए। अंत में श्री मति त्रिखा ने संस्कार शाला के बालक बालिकाओं को मिष्ठान्न और उपहार देकर प्रोत्साहित किया। उत्सव मंडल का आयोजन करने वालों में कावेरी बाली,सरोज गोस्वामी तथा विपुल,बादल अनुज,गिन्नी ,स्वाति ,श्रुति ,सुधांशु ,दक्ष ,कृष्ण ,गुनगुन ,संध्या ,दिव्यांशी आदि ने प्रतिभाग किया।