ALL political social sports other crime current religious administrative
दीवार के ढहने पर कांग्रेसियों ने ठहराया बिजली विभाग को जिम्मेदार
July 21, 2020 • Sharwan kumar jha • other

हरिद्वार। कांग्रेस नेताओं ने प्रशासन और ऊर्जा निगम को इस हादसे का जिम्मेदार ठहराया है। पूरे मामले की तकनीकी व निष्पक्ष जांच करने की मांग भी की गई है। महापौर अनिता शर्मा ने कहा कि भूमिगत विद्युत लाइन डालने के लिए जगह-जगह सड़कों की खुदाई की गई है। सड़क के गड्ढे और दीवार की जड़ में पानी भरने से हादसा हुआ है। पूर्व विधायक अंबरीश कुमार ने कहा कि प्रशासन सहित जितने विभाग भूमिगत लाइन डाल रहे हैं, वह सभी हरकी पैड़ी की दीवार गिरने के लिए जिम्मेदार हैं। कुंभ के कार्यों के लिए अब समय नहीं रहा है। कुंभ के मुख्य स्थल हरकी पैड़ी पर इतना बड़ा हादसा होना अपने आप में प्रश्न चिन्ह लगा रहा है। भाजपा के लोग कल तक भूमिगत लाइन का विरोध करते थे, बाद में कमीशन तय होने पर अनियोजित तरीके से लाइन डलवाकर भ्रष्टाचार किया जा रहा है। प्रशासन को चाहिए कि लीपापोती करने के बजाय ऊर्जा निगम, नगर निगम, लोनिवि जैसे विभागों के इंजीनियरों की तकनीकी टीम से जांच कराते हुए कार्रवाई करे। पूर्व पालिकाध्यक्ष सतपाल ब्रह्मचारी ने आरोप लगाया कि सत्ताधारी नेताओं की शह पर पूरे शहर की सड़कों को खोदकर डाल दिया गया है। हरकी पैड़ी की दीवार गिरना विभागों की लापरवाही का परिणाम है। इस मामले में कार्रवाई होनी चाहिए। पूर्व सभासद अशोक शर्मा ने कहा कि भाजपा नेता अपना भ्रष्टाचार छिपाने के लिए आकाशीय बिजली को दीवार गिरने का जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। दोषियों को सजा मिलनी चाहिए।