ALL political social sports other crime current religious administrative
दो अलग अलग मामलो में दो व्यक्ति ने फांसी लगाकर दे दी जान
September 12, 2020 • Sharwan kumar jha • crime

हरिद्वार। कोरोना काल के इस दौर में दो अलग अलग घटनाओं ने दो लोगों ने फांसी लगाकर आत्म हत्या कर ली। सूचना पर मौके पर पहुची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्तम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया,दोनो ही मामलों में कोई सुसाइड नोट नही मिला। पहले मामले में नगर कोतवाली क्षेत्रान्गर्त एक धर्मशाला में ठहरे हरियाणा के यात्री ने फांसी पर लटक कर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस को कमरे से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस के अनुसार शनिवार को भीमगोड़ा क्षेत्र की एक धर्मशाला में वाल्मीकि बस्ती, हनुमान गेट भिवानी हरियाणा निवासी मुकेश आकर ठहरा था। बताया जाता है कि शनिवार को दोपहर तक दरवाजा नहीं खुलने पर जब कर्मचारी ने दरवाजा खटखटाया तो अंदर से कोई आहट नहीं हुई। दरवाजा अंदर से बंद था। किसी तरह दरवाजा खोला तो शव पंखे से लटका हुआ था। इसकी सूचना मिलते ही खड़खड़ी चैकी प्रभारी दिलबर कंडारी ने मौके पर पहुंचकर शव को नीचे उतरवाकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। कोतवाली प्रभारी अमरजीत सिंह ने बताया कि आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है। परिजनों को सूचना दे दी गई है। दूसरे मामले में कनखल थाना क्षेत्रान्गर्त ग्राम जमालपुर कलां स्थित गैस गोदाम के परिसर में एक व्यक्ति ने पेड़ पर गमछे के सहारे फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।  सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को नीचे उतारकर पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया है। पुलिस के अनुसार घटना शनिवार दोपहर करीब साढ़े तीन बजे की है, जब पप्पू पुत्र रामसेवक (48) निवासी बखसेना थाना हजरतपुर जिला बदायूं उत्तर प्रदेश हाल निवासी जमालपुर कलां का शव पेड़ पर फांसी से लटका हुआ था। एलपीजी गैस गोदाम परिसर में गमछे के सहारे आम के पेड़ से लटके शव को पुलिस ने नीचे उतरवाया। कार्यवाहक थानाध्यक्ष चंद्रमोहन के अनुसार मौके से कोई सुसाइड नोट नही मिला,पुलिस आत्महत्या के कारणों की जांच कर रही है।