एक और कांग्रेसी पार्षद ने थामा भाजपा का दामन,लगाया कांग्रेस में गुटबाजी का आरोप
March 6, 2020 • Sharwan kumar jha

हरिद्वार। कांग्रेस पार्षदों के पार्टी छोड़कर भाजपा में जाने का सिलसिला लगातार जारी है। सचिन अग्रवाल, विकास कुमार के बाद शुक्रवार को गोविंदपुरी वार्ड नं.18 की पार्षद आशा सारस्वत भी कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गयी। खन्ना नगर स्थित नगर विकास मंत्री मदन कौशिक के कार्यालय पर मंत्री प्रतिनिधि मुकेश कौशिक ने आशा सारस्वत व उनके पति प्रीत कमल को फूलमालाएं पहनाकर भाजपा की सदस्यता दिलायी। इस दौरान प्रीत कमल ने कहा कि यह उनकी घर वापसी है। उन्होंने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा कश्मीर से धारा 370 हटाने, राममंदिर निर्माण का रास्ता साफ करने से जैसे कार्यों से प्रभावित होकर वे पुनः भाजपा में शामिल हुए हैं। पार्षद आशा सारस्वत ने कहा कि वार्ड व शहर के विकास में योगदान के लिए उन्होंने भाजपा में शामिल होने का निर्णय लिया। मंत्री प्रतिनिधि मुकेश कौशिक ने कहा कि पार्षद आशा सारस्वत की घर वापसी हुई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी अपने कार्यकर्ताओं का सम्मान नहीं करती है। कांग्रेस में उपेक्षा व भाजपा की नीतियों से प्रभावित होकर कांग्रेस पार्षद भाजपा में सम्मिलित हो रहे हैं। सभी को भाजपा मे ंपूरा सम्मान दिया जाएगा। स्वागत करने वालों में राजकुमार, अन्नू कक्कड़, कामिनी सड़ाना, राजेंद्र कटारिया, सुनील गुड्डु, सचिन बेनीवाल, विकास कुमार आदि सहित कई भाजपा कार्यकर्ता शामिल रहे। दूसरी और कांग्रेस पार्षद आशा सारस्वत के भाजपा में शामिल होने पर महानगर कांग्रेस अध्यक्ष संजय अग्रवाल ने कांग्रेस में गुटबाजी के आरोपों को नकारते हुए कहा कि कहा कि भाजपा हमेशा ही तोड़ने की राजनीति करती है। धनबल, लालच देकर तथा डरा धमकाकर कांग्रेसी पार्षदों को भाजपा में शामिल कराया जा रहा है। आशा सारस्वत व उनके पति प्रीत कमल के जाने से कांग्रेस को कोई नुकसान नहीं होगा। भाजपा के खिलाफ कांग्रेस अपनी लड़ाई जारी रखेगी।