ALL political social sports other crime current religious administrative
एक्सरसाइज नही करने तथा वातानुकूलित जीवन शैली बीमारी को बुलाता है
May 16, 2020 • Sharwan kumar jha • other

हरिद्वार। ज्यादा एक्सरसाइज करने से निकलने वाला ग्लूटामाइन डब्लूबीसी (श्वेत रक्त कणिका का निर्माण करता है। आगे चलकर ये डब्लूबीसी ही इम्यूनिटी को बढाती है। जिससे व्यक्ति का शरीर बीमारियों के खतरे से सुरक्षित रहता है। ये विचार पंजाबी विश्वविद्यालय पटियाला के शारीरिक शिक्षा विशेषज्ञ प्रो0 निशान्त सिंह देओल ने गुरूकुल कांगडी विश्वविद्यालय में शारीरिक शिक्षा एवं खेल विभाग द्वारा वेबिनार के माध्यम से आयोजित व्याख्यान मे व्यक्त किये। प्रो0 निशान्त ने कहा कि एक्सरसाइज करने से कम ग्लूटामाइन का स्रावण होता है। प्रो0 देओल सरवाइवल टू द फिटेस्ट विषय पर अपना व्याख्यान दे रहे थे। उन्होने बताया कि रोगों के खतरे को कम करने तथा स्वस्थ रहने के लिए जहां प्रोटीन कार्बोहाइडेटस विटामिन सी और डी जिंक मैग्नीशियम आदि तत्वों की आवश्यकता होती है। इसके अलावा एक्सरसाइज न करने तथा एयर कन्डीशन की लाईफ स्टाईल के कारण बीमारियों का खतरा बढता जाता है। उन्होने रोज स्वस्थ करने के लिए प्रयास करने पर बल देते हुए धीमे तथा तेज गति से चलना तथा एक्सरसाइज करते हुए हार्ट रेट 110 से 120 के ऊपर रहना ज्यादा लाभदायक होता है। वेबिनार के संयोजक डा0 शिवकुमार चैहान ने बताया कि वीडियों कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से तेलंगाना, दिल्ली, बनारस, मेरठ, बागपत, पटियाला, चण्डीगढ से 45 लोग इस व्याख्यान सीरिज से जुडे जिन्होने कोविड-19 के प्रभाव को कम करने तथा इम्यूनिटी को बढाने के तरीके पूछे। बीपीएड, एमपीएड तथा शोध छात्रों ने भी इस व्याख्यान का लाभ लिया। इस वेबिनार के डायरेक्टर प्रो0 आर-के-एस- डागर ने सभी प्रतिभागियों सहित प्रो0 निशान्त सिंह देओल की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए धन्यवाद ज्ञापित किया