ALL political social sports other crime current religious administrative
गंगा में बहे युवक की अस्पताल में उपचार के दौरान मौत
June 2, 2020 • Sharwan kumar jha • crime

हरिद्वारः सप्तऋषि क्षेत्र के ठोकर नंबर एक पर बहे युवक को बचाने के बाद मंगलवार को उसकी अस्पताल में मौत हो गई। चित्रकूट के एक युवक की इलाज के दौरान मौत हो गई। दरअसल, सोमवार को देर शाम गंगा में स्नान के दौरान भारत माता पुरम सप्तऋषि स्थित हनुमंत धाम निवासी राम लखन दास (40) शिष्य नवल किशोर अपने दो साथी मनीष पांडे (22) पुत्र शिव पांडे निवासी नागलोई हनुमान मंदिर दिल्ली और अनंत मिश्रा (28) पुत्र बाबू राम निवासी कोबरा चित्रकूट के साथ सप्तऋषि क्षेत्र के ठोकर नंबर एक से गंगा में बह गए थे। दूधियांबद निवासी संदीप और गंगन कुमार ने संत राम लखन और मनीष पांडे को किसी तरह गंगा से बहने से बचा लिया। जबकि अनंत मिश्रा गंगा में लापता हो गया। बचाए गए एक युवक की हालत खराब होने पर उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी मौत हो गई। वहीं लापता युवक की तलाश में जल पुलिस के गोताखोरों ने सर्च अभियान चलाया, लेकिन युवक का कुछ पता नहीं चल पाया। पुलिस के मुताबिक भारत माता पुरम सप्तऋषि स्थित हनुमंत धाम निवासी राम लखन दास सोमवार देर शाम अपने दो साथी मनीष पांडेय और अनंत मिश्रा निवासी कोबरा चित्रकूट के साथ सप्तऋषि क्षेत्र के ठोकर नंबर एक पर स्नान कर रहे थे। उसी दौरान तीनों गंगा में बहने लगे। मछलियों को आटा खिला रहे दूधियांबद निवासी संदीप और गगन कुमार ने संत राम लखन और मनीष पांडेय को किसी तरह गंगा से बाहर निकाला। लेकिन इस बीच अनंत मिश्रा गंगा में बह गए। पुलिस ने मनीष की हालत नाजुक देखते हुए उसे अस्पताल में भर्ती कराया। डॉक्टरों ने रात में ही उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया। जहां उपचार के दौरान मनीष पांडेय की मौत हो गई। वहीं पुलिस की एक टीम मंगलवार की सुबह से गंगा में अनंत मिश्रा की तलाश में जुटी रही। लेकिन शाम तक प्रयास करने के बावजूद अनंत का कुछ पता नहीं चल पाया। सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह ने बताया कि गंगा में डूबने से बचाए गए मनीष पांडेय की उपचार के दौरान मौत हो गई है। लापता अनंत मिश्रा की तलाश की जा रही है।