ALL political social sports other crime current religious administrative
गंगा सप्तमी के मौके पर भी हर की पैड़ी गंगाघाट पूरी तरह से खाली
April 30, 2020 • Sharwan kumar jha • current

हरिद्वार। कोविड 19 कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लागू लाॅकडाउन के कारण काफी समय बाद ऐसा हुआ है कि गंगा सप्तमी के दिन भी हर की पैड़ी पर श्रद्वालु स्नान नही कर पाये। लाॅकडाउन का सख्ती से पालन कराने के लिए पुलिस ने हरकी पैड़ी को सुबह पांच बजे से दोपहर एक बजे तक पूरी तरह से सील किया था। संभवतः ऐसा पहली बार हुआ कि लाॅक डाउन के कारण पुलिस की सख्ती के कारण पहली बार तीर्थ पुरोहित स्थानीय श्रद्वालु भी गंगा सप्तमी पर हरकी पैड़ी में गंगा स्नान नहीं कर पाए। किसी को भी हरकी पैड़ी जाने की अनुमति नहीं दी गई थी। कुछ लोगों ने चोरी छिपे अपने घरों के आसपास गंगा घाटों में गंगा स्नान किया। कहा जाता है कि मां गंगा का जन्म ब्रह्मलोक में गंगा सप्तमी के दिन हुआ था। लॉकडाउन के कारण इस साल गंगा सप्तमी पर हरकी पैड़ी पर सन्नाटा रहा। पुलिस ने हरकी पैड़ी को पूरी तरह सील किया हुआ था। भीमगोड़ा से लेकर कोतवाली नगर के पास लगे बैरिकेड से किसी को भी एंट्री नहीं दी गई। केवल मात्र स्टाफ के लोगों को ही आने जाने दिया गया। गुरुवार सुबह तीर्थ पुरोहित अपने परिवार के साथ स्नान करने हरकी पैड़ी जाने लगे। लेकिन पुलिस ने बीच से ही सभी को वापस लौटा दिया। कई लोगों ने पुलिस से बहस भी की। एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय, सीओ सिटी अभय सिंह, नगर कोतवाली प्रभारी प्रवीण सिंह कोश्यारी सुबह छह बजे से हरकी पैड़ी पर तैनात रहे।