ALL political social sports other crime current religious administrative
हिन्दू बहनों से राखी बंधवाकर जिप उपाध्यक्ष राव आफाक दे रहे कौमी एकता की मिसाल
August 4, 2020 • Sharwan kumar jha • other

हरिद्वार। हिन्दू मुस्लिम एकता की पहचान साम्प्रदायिक सद्भावना के प्रतीक जिला पंचायत के उपाध्यक्ष राव आफाक अली वैसे तो होली दीपावली मिलन हो या शिव भक्त कवाड यो की सेवा करना हर साल नही भूलते बल्कि अपना फर्ज समझते है 33 वर्ष पहले रानीपुर थाने के एक दरोगा जो सी बी सी आई डी के इंस्पेक्टर पद से रिटायर हुए है 33 वर्ष पहले रक्षा बंधन के दिन अचानक उनके घर जाना हुआ तो उन्होंने लंच पर अपने परिवार के साथ बैठा लिया इत्तेफाक से सेवानिवृत दरोगा के कोई पुत्र नही था लंच के बाद राव आफाक अली ने उनकी तीनो पुत्रियो को कंचन शर्मा पिंकी शर्मा दीपा शर्मा को 10-10 रुपए दिए तो वो तीनो छोटी छोटी बहने झट से बाजार गयी और राखिया लाकर राव आफाक अली को बांध दी तब से अब तक यह सिलसिला जारी है । इस बहन भाई के पवित्र रिस्ते को निभाते चले आ रहे है इस ब्राह्मण परिवार से भी मुस्लिम राव आफाक अली को पारिवारिक सदस्य का दर्जा मिला हुआ है राव बताते है कि घर से भी ज्यादा अपनापन व सम्मान हर अवसर पर बड़े भाई के रूप में मिलता चला आ रहा है हालांकि वाई के शर्मा जी को बाद में एक पुत्र आयुष शर्मा की प्रप्ति हो गयी थी लेकिन घर परिवार में आज भी बड़े भी की मान्यता प्राप्त है। राव ने बताया कि पूर्व में भी कई किस्से कहानिया जो हकीकत मैं आयी उसे आमेर की रानी ने हुमायु को राखी भेजी थी तो भाइयो ने हमेशा रानी के राज्य की रक्षा की व भाई होने का फर्ज निभाता रहा। राव आफाक अली की बहन नुजहत राव ने भी अपने लव कुमार शर्मा जो सिचाई विभाग में कार्यरत है को पिछले 15 वर्षों से राखी बांधती चली आ रही है। दुनिया मे नफरतो की चाहे जितनी आंधिया चले इस्लाम धर्म व स्नातन धर्म के मानने वाले अमन भाईचारे व सद्भावना का ही पैगाम रहेंगे क्योकि मजहब नही सीखाता आपस मे बैर रखना हिंदी है हम वतन है हिंदुस्तान हमारा सारे जहा से अच्छा हिंदुस्तान हमारा।