ALL political social sports other crime current religious administrative
जिलाधिकारी ने लोगों की समस्याओं को सुना,किया क्षेत्र का स्थलीय निरीक्षण
August 5, 2020 • Sharwan kumar jha • administrative

हरिद्वार। जिलाधिकारी सी रविशंकर ने लालढांग क्षेत्र में विकास कार्यो तथा वहाॅ के निवासियों की मूलभूत आवश्यकताओं, समस्याओं के समाधान आजिविका अर्जन सम्बंधि विषयों को लेकर क्षेत्र का स्थलीय निरीक्षण किया। उन्होंने लोगों से सीधा संवाद कर उनकी जरूरत और समस्यायें पूछी। अधिकांश क्षेत्र वासियों ने जिलाधिाकारी के समक्ष जीविकोपर्जन, पेयजल, मनरेगा जाॅब कार्ड, आवास, शौचालय तथा राशन कार्ड व आय प्रमाण पत्र बनवाने में आ रही समस्यायें रखी। जिलाधिकारी ने लोगों की समस्या को प्रत्यक्ष देख एसडीएम, जिला विकास अधिकारी, तहसीलदार पटवारी से प्रत्येक व्यक्ति की समस्या को नाम सहित दर्ज करवाया। उन्होंने तहसील अधिकारियों को 31 अगस्त तक वह सभी प्रमाण पत्र पात्रता के आधार पर बनाकर उपलब्ध करा दिये जाने के निर्देश दिये जिनके आधार पर विभिन्न योजनाओं, पेंशन खाद्यान, आयुष कार्ड ,आवास योजनाा आदि का लाभ पात्रों को दिया जा सकता है। जिलाधिकारी ने साफ कहा कि प्रमाण पत्रों के अभाव में कोई भी व्यक्ति सरकारी योजनाओं के लाभ से वंचित न रहे ऐसा सुनिश्चित किया जाये। डीएम ने महिलाओं को स्वरोजगार के लिए बनाये जाने वाले स्वंय सहायता समूहों के निष्क्रिय पड़े होने पर भी नाराजगी जतायी उन्हेांने शीघ्र एनआरएलएम, सेवायोजन तथा उद्योग विभाग से बनाये गये समूहों को क्षेत्र में प्रशिक्षण देकर सक्रिय किये जाने के निर्देश दिये। क्षेत्र की एनजीओ कार्यकर्ता श्रीमती श्रुति ने यहां के बेरोजगार लोगोां की आजिविका के लिए क्षेत्र के प्राकृति संसाधनों से ही विभागों की मदद से ग्रोथ सेंटर विकसित किये जाने का सुझाव दिया। उन्होंने इस क्षेत्र की विशेष गुणवत्ता वाली हल्दी की पैदावार को बढ़ावा, दुग्ध व्यवसाय के प्रोसेसिंग युनिट, पशु पालको के लिए बायोगैस प्लांट, मोन पालन, भाबर घास रोपण, रेशम के कुशल कामगारों के लिए परियोजना, आदि क्षेत्रों को बढ़ावा दिये जाने को कहा। डीएम ने यहां के 60 कुशल रेशम उत्पादकों के लिए रेशम विभाग से 15 अगस्त तक कार्य योजना का प्रस्ताव बना कर दिये जाने के निर्देश दिये।