कन्या गुरूकुल परिसर में वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिता आयोजित
March 2, 2020 • Sharwan kumar jha

हरिद्वार। गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय के कन्या गुरुकुल परिसर में बेटियों को खेल और क्रीडा के क्षेत्र में राष्ट्रीय स्तर पर स्थापित करने के लिए छात्राओं की वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस प्रतियोगिता में परिसर में शिक्षा ग्रहण करने वाली छात्राओं ने विभिन्न खेलों में सहभागिता निभाई। प्रतियोगिता में विजयी छात्राओं को प्रोत्साहित करने के लिए एक वार्षिक खेलकूद पारितोषिक वितरण कार्यक्रम आयोजित किया गया।  कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो रूप किशोर शास्त्री ने कहा  कि खेलने से छात्राओं का शारीरिक और मानसिक विकास होता है। खेलने से शरीर का सौष्ठव बढ़ता है। वेदों में लिखा है जो अध्ययनकर्ता शिक्षा ग्रहण करने के साथ खूब खेलता  और क्रीडा करता है उसका ही मानसिक विकास होता है। सभी बेटियों को नियमित परिधि में खेलना चाहियें।खेल हमारे शरीर की मौलिक आवश्यकता है। विश्वविद्यालय के कुलसचिव व् पक्षी विज्ञानी प्रो दिनेश भट ने कहा कि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की नयी खेल नीति में स्पष्ट निर्देशित कर दिया गया है कि सभी विश्वविद्यालय के सभी छात्र और छात्राओं को प्रतिदिन खेलकूद पढाई के साथ करना अनिवार्य होगा। कन्या गुरुकुल परिसर की समन्वयक प्रो नमिता जोशी ने जानकारी देते हुए कहा कि आज विभिन्न खेलों में जिन छात्राओं ने हिस्सा लिया है, उनको आज पुरुस्कृत किया जा रहा है। बैटबिन्टन प्रतियोगिता में प्रथम स्थान सारिका (इतिहास)एवं द्वितीय रुचि(सूक्ष्म जीव विज्ञान) में प्राप्त किये। टेबिल टेनिस प्रतियोगिता में शैलजा( भौतिकी) प्रथम एवं साक्षी( भौतिकी )द्वितीय स्थान पर रही। सौ मीटर दौड़ में दीक्षा (बी.पीइएस)प्रथम,ज्योति(अंग्रेजी)द्वितीय एवं परीणिता भट्ट(भौतिकी)तृतीय स्थान पर बाजी मारी। शिक्षकेतर कर्मचारी वर्ग की बैटबिन्टन प्रतियोगिता में पुरुषों में राहुल प्रकाश प्रथम एवं संजय कुमार द्वितीय स्थान पर रहे। महिला वर्ग में मंजू विष्ट प्रथम रीता सहरावत द्वितीय स्थान पर रही। कु दीक्षा (बी पी इ एस) को सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी घोषित किया गया। इस अवसर पर कुलपति प्रो रूप किशोर शास्त्री, प्रो. दिनेश भट्ट,डा आर के एस डागर ने सभी विजेता खिलाडियों को बधाई दी। इस अवसर प्रो संगीता विद्यालंकार, प्रो श्याम लता जुयाल,प्रो सुचिता मलिक,डा मुदिता अग्नोत्री,प्रो पदमा सिंह,डा वीणा विश्नोई,डा संगीता मदान,डा ऋतू डा रीता और दीपा एवं समस्त कर्मचारी वर्ग मौजूद रहा।