ALL political social sports other crime current religious administrative
किसानों ने दी आंदोलन व आत्मदाह की चेतावनी
July 14, 2020 • Sharwan kumar jha • other

हरिद्वार। उत्तराखंड किसान मोर्चा के अध्यक्ष चैधरी गुलशन रोड ने 15 दिन में किसानों की समस्याओं का समाधान न होने पर मुख्यमंत्री आवास पर आत्मदाह करने की धमकी दी है। उन्होंने कहा कि किसानों को सड़क बनने के बाद भी मुआवजा नहीं मिला है। गेहूं, गन्ना भुगतान, यूरिया और मुआवजे के लिए किसानों को भटकना पड़ रहा है। मंगलवार को प्रेस क्लब में पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि हरिद्वार बाईपास बनाने के लिए किसानों की जमीन अधिग्रहित की गई थी। अब सड़क भी बनकर तैयार है, लेकिन बेलड़ा के चैधरी जगपाल सिंह समेत चार किसानों को करीब एक करोड़ रुपये का मुआवजा आज तक नहीं दिया गया है। ये किसान एक साल से विशेष भूमि अध्यापित अधिकारी कार्यालय के चक्कर काट रहे हैं, लेकिन इन्हें कभी देहरादून भेज दिया जाता है तो कभी हरिद्वार। आरोप लगाया कि कार्यालय के एक अधिकारी की तरफ से मुआवजा देने की एवज में सीधे दो प्रतिशत कमीशन की मांग की जा रही है। आरोप है कि किसानों की ओर से यह कमीशन नहीं देने पर उन्हें ं मुआवजा नहीं दिया जा रहा है। इसके अलावा मिलों में किसानों का करोड़ों का भुगतान अटका हुआ है। सरकारी गोदाम में खाद नहीं है। किसानों को महंगे दामों में बाहर से खाद खरीदनी पड़ रही है। इस मौके पर मोर्चा के जिलाध्यक्ष चैधरी महकार सिंह, रुड़की तहसील अध्यक्ष आदिल हसन, जगपाल आदि मौजूद रहे।