ALL political social sports other crime current
कोरोना को लेकर शासन का आदेश आया देर से,खुले रहे कई स्कूल
March 13, 2020 • Sharwan kumar jha

हरिद्वार। कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण प्रदेश सरकार द्वारा 12वीं तक के स्कूलों को बंद रखे जाने के आदेश के बाद भी शहर में अधिकांश स्कूल खुले रहे। गुरूवार शाम को उत्तराखण्ड सरकार की ओर से कोरोना से बचाव को लेकर 13मार्च से 31 मार्च तक स्कूल बंद रखने के आदेश जारी किए थे। इस दौरान 12वीं तक स्कूलों में बंद रखने तथा केवल बोर्ड परीक्षाएं जारी रहने का आदेश दिया गया,लेकिन गुरूवार देर रात जारी आदेश कई स्कूलों समय से नही पहुचे,आदेश जब पहुचे,तक तब अधिकांश स्कूल सुबह खुल चुके थे। इन दिन कई स्कूलों में वार्षिक परीक्षाएं संचालित हो रही है,होली के अवकाश के बाद अधिकांश स्कूलों में विभिन्न वर्गो के वार्षिक परीक्षाएं संचालित होनी थी,यही वजह है कि शुक्रवार को बारिश के बाद भी बच्चे स्कूल पहुंचे। शहर के अधिकांश सरकारी और पब्लिक स्कूल खुले रहे। हालांकि सोशल मीडिया में रात से ही स्कूलों में अवकाश को लेकर सचिव शिक्षा विभाग का पत्र वायरल हो गया था। अभिभावकों को यकीन नहीं हो रहा था कि स्कूल बंद कर दिए गए हैं। देहात क्षेत्र में भी अधिकांश स्कूल खुले रहे। पथरी के गांव धनपुरा, पदार्था, घिस्सुपुरा सहित अन्य गांव में निजी स्कूल खुले दिखाई दिए। सरकारी स्कूलों को जैसे जैसे आदेश का पता चलता रहा, वह अवकाश करते गए। लेकिन पब्लिक स्कूलों ने निर्धारित समय पर ही अवकाश किया। उप शिक्षा अधिकारी दीप्ति यादव ने बताया इस संबंध में कुछ स्कूल संचालकों से बातचीत हुई है। उनका कहना है कि जो बच्चे शुक्रवार को स्कूल पहुंचे थे, उन्हें समझाया गया है और 31 मार्च तक छुट्टी के आदेश कर दिए गए हैं। शनिवार से अगर कोई स्कूल खुलता है तो उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी। शनिवार से सभी सरकारी व पब्लिक स्कूल 31 मार्च तक बंद रखे जाएंगे।