ALL political social sports other crime current religious administrative
कोरोना महामारी के इस दौर में फार्मेसी प्रोफेशनल्स के पास अपार संभावनाएं- डॉ. कौशिक
May 25, 2020 • Sharwan kumar jha • other

हरिद्वार। गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय हरिद्वार के भेषज विज्ञान विभाग एवं एसोसिएशन ऑफ फार्मेसी प्रोफेशनल्स द्वारा एक अंतरराष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन किया गया। इस वेबिनार में महासा विश्वविद्यालय मलेशिया के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. वेत्रिसेल्वन सुब्रमनियन ने इफेक्टिव टीचिंग एंड लर्निंग स्ट्रेटेजीज इन फार्मेसी विषय पर बोलते हुए प्रतिभागियों को बताया कि कैसे विश्व भर में फार्मेसी शिक्षा को बेहतर तरीके से अपनाया जा सकता है ताकि ऐसे विद्यार्थी निर्मित हो सकें जो दवा कंपनी एवं शोध संस्थाओं की जरूरत को पूरा कर सकें। उन्होंने बताया कि विश्वभर में आज फार्मेसी शिक्षा में ऐसे आयामों को सम्मिलित किया जा रहा है जिससे छात्र को प्रथम वर्ष से ही इंडस्ट्री एक्सपोजर मिल सके और वह इस तरह से तैयार हो सके कि उसका दृष्टिकोण दवाओं के नए शोध एवं गुणवत्तापरक निर्माण में सहायक हो सके। इस वेबिनार में विश्वविख्यात दवा शोध कंपनी मार्टिनडेल के शोध विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. भूपेन्द्र कौशिक ने प्रतिभागियों को ड्रग डेवलपमेंट चैलेंज एवं अपोर्चुनिटीज ड्यूरिंग कोविड-19 के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने बताया कि कोविड वायरस की संरचना और उसके बदलते स्वरूप को ध्यान में रखते हुए किस प्रकार इसके निदान हेतु वैक्सीन एवं दवा विकसित की जा रही है। उन्होंने प्रतिभागियों से कहा कि कोरोना महामारी के इस दौर में फार्मेसी प्रोफेशनल्स के पास अपार संभावनाएं हैं और उन्हें इस अवसर का जन सामान्य के जीवन रक्षण हेतु लाभ उठाना चाहिए। साथ ही उन्होंने बताया कि विश्वभर की अग्रणी दवा शोध कंपनियां कोरोना वायरस के सफल इलाज हेतु वैक्सीन डेवलपमेंट के क्लीनिकल ट्रायल फेज पर हैं और अनेक कंपनियों ने इस वैक्सीन को एनिमल्स पर सुरक्षित एवं असरदार पाया है। उन्होंने बताया कि वैक्सीन का सफल परीक्षण होने के उपरान्त भी इसका जनसाधारण तक उचित मूल्य पर उपलव्ध होना अपने आप में एक चुनौती है। आयुर्विज्ञान एवं स्वास्थय संकाय के संकायाध्यक्ष प्रो. ईश्वर भारद्वाज ने सभी को इस वेबिनार के सफल आयोजन हेतु अपनी शुभकामनाएं प्रेषित कीं। वेबिनार के संयोजक डॉ. विपिन कुमार ने सभी प्रतिभागियों को कोरोना से बचाव एवं बरती जाने वाली सावधानियों से अवगत कराया। इस वेबिनार के संयोजक सदस्य डॉ. अश्वनी कुमार, डॉ. प्रिंस प्रशांत शर्मा, डॉ. कपिल कुमार गोयल एवं विनोद नौटियाल ने वेबिनार के सफल संचालन में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी।