ALL political social sports other crime current religious administrative
कुम्भ मेला कार्यो में उत्तरी हरिद्वार की उपेक्षा का लगाया आरोप
August 21, 2020 • Sharwan kumar jha • other

हरिद्वार। साधुबेला पीठाधीश्वर आचार्य स्वामी गौरीशंकर दास ने उत्तरी हरिद्वार क्षेत्र में कुंभ मेला कार्य प्रारम्भ ना होने पर नाराजगी जताते हुए कहा कि महाकुंभ मेला नजदीक है। प्रशासन उत्तरी हरिद्वार क्षेत्र की उपेक्षा कर रहा है। संत बाहुल्य क्षेत्र होने के बावजूद भी उत्तरी हरिद्वार में कुंभ मेले से संबंधित कार्य अभी तक शुरू नहीं हुए हैं। मेला प्रशासन के किसी भी अधिकारी ने उत्तरी हरिद्वार में कुंभ मेला व्यवस्थाओं को लेकर संतों से संपर्क तक नहीं किया। उन्होंने कहा कि कुंभ मेला हो या कांवड़ मेला सबसे अधिक श्रद्धालु उत्तरी हरिद्वार के आश्रमों में पहुंचते हैं। कुंभ मेला शुरू होने में कुछ माह शेष रह गए हैं। इसके बावजूद ना तो क्षेत्र के गंगा घाटों के सौन्दर्यकरण का कार्य शुरू कराया गया है ना ही आश्रम अखाड़ों के सौन्दर्यकरण के लिए कुछ किया जा रहा है। जलभराव की समस्या को दूर करने के लिए कोई कदम नहीं उठाए गए हैं। विभिन्न योजनाओं के लिए जगह जगह की जा रही संड़कों की खुदाई के कारण सड़कों पर चलना मुश्किल हो रहा है। स्वामी गौरीशंकर दास महाराज ने कहा कि जिस गति से हाईवे निर्माण व पुलों का कार्य चल रहा है। उसे देखते हुए लगता नहीं कि कुंभ शुरू होने से पूर्व यह कार्य पूरे हो पाएंगे। स्वामी गौरीशंकर दास महाराज न कहा कि कोरोना महामारी के निदान के लिए साधुबेला आश्रम में विशेष पूजा अर्चना कर लोककल्याण व विश्व खुशहाली की कामना की। उन्होंने कहा कि जल्द ही ईश्वरीय कृपा से कोरोना वायरस समाप्त होगा और देश दुनिया में खुशहाली लौटेगी। इस दौरान स्वामी बलराम मुनि व गोपालदत्त पुनेठा भी मौजूद रहे।