ALL political social sports other crime current
लाॅकडाउन का उल्लघंन करने के आरोप में 15गिरफ्तार,31वाहन सीज
March 25, 2020 • Sharwan kumar jha

हरिद्वार। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए प्रदेश सरकार के बाद केन्द्र सरकार द्वारा लगाये गये लॉकडाउन के दूसरे दिन उल्लघंन के आरोप में अलग अलग थाना पुलिस ने 15 लोगों को गिरफ्तार किया। जबकि तीन पर दुकान खोलने पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया। इस दौरान 31 वाहनों को पुलिस ने सीज किया। कनखल एसओ विकास भारद्वाज ने बताया कि दुकान खोलने को दी गई छूट के बाद भी दुकान खोलकर बैठे दुकानदार निशांत पुत्र राजेंद्र निवासी मोहल्ला चैपाड़ के खिलाफ मुदकमा दर्ज किया है। इसके अलावा धारा 144 लागू होने के बाद भी घूम रहे छह लोगों का शांतिभंग के आरोप में चालान कर दिया गया। पूछताछ में युवकों ने अपना नाम सन्नी पुत्र लक्ष्मण निवासी कैलाश गली खड़खड़ी, हेमंत सिंह पुत्र दमन सिंह निवासी जंगलात चैकी के सामने रानीपुर, आनंद सिंह पुत्र भगत सिंह निवासी श्यामपुर कांगड़ी, कंवर सिंह पुत्र खुमानी निवासी रामपुर अलीगंज बरेली यूपी, रामवीर पुत्र सियाराम निवासी खनौकी आगरा यूपी, संजीव पुत्र महेंद्र निवासी खेड़ी धामपुर बिजनौर यूपी एवं दीनानाथ पुत्र कैलाशी राम निवासी बिजनौर बताया। वहीं, नगर कोतवाली पुलिस ने विनोद पुत्र यशपाल सिंह निवासी नंदप्रयाग चमोली, कृष्णा पुत्र थंजी, निवासी ललतारौ पुल हरिद्वार, गोलू पुत्र संजय निवासी मनसा देवी, प्रेम पुत्र दर्शन निवासी ब्रह्मपुरी, श्रीराम पुत्र सुखपाल निवासी ब्रह्मपुरी हरिद्वार, आकाश पुत्र सतपाल निवासी मिश्रावाली गली हरिद्वार ब्रह्मपुरी, शिवजी शर्मा पुत्र पूरण चंद शर्मा निवासी नैनीजल भवन अपर रोड हरिद्वार, रोहित पुत्र मंगताराम निवासी बंगाली बस्ती हरिद्वार और चंद्रशेखर पुत्र तुलसीदास निवासी ब्रह्मपुरी हरिद्वार को गिरफ्तार किया है। नगर कोतवाली पुलिस ने एआरटीओ चैक के राहुल कश्यप पुत्र मूलचंद कश्यप निवासी एकता विहार सर्वद्वार नगर ऋषिकेश को लॉकडाउन के दौरान ढाबा खोलते पाया। रानीपुर कोतवाली पुलिस को सूचना मिली की शिवालिक नगर में सब्जी की दुकान खुली हुई है। सूचना मिलने पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दुकान पर छापा मारा, जहां दुकानदार सब्जी बेचता मिला। रानीपुर पुलिस ने सब्जी विक्रेता सोनू पाण्डे पुत्र वीरेंद्र पाण्डे निवासी एस-308 शिवालिक नगर के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। इस दौरान नगर पुलिस ने कुल 31 वाहन सीज किए।