लाॅकडाउन से मायूस मायूस लोग पैदल ही निकलने लगे है अपने घरों की ओर
March 26, 2020 • Sharwan kumar jha

हरिद्वार। दो जून की रोटी और बेहतर जीवनयापन की उम्मीद में अपने अपने घरों से दूर रहे लोग आखिरकार पैदल ही अपने अपने घरों के लिए निकल पड़े है। लॉकडाउन के दौरान यातायात व्यवस्था ठप्प होने सें लोग घरों को लौटने को मजबूर हो गए हैं। जबकि अभी भी रोजी रोटी की तलाश में आए सैकड़ों लोग इस समय हरिद्वार समेत कई स्थानों में फंसे हुए हैं। दूर दूर से आये मजदूरी करने आये ये लोग समूह में पैदल निकल पड़े हैं। कोई बरेली जा रहा है तो कोई खतौली। ऐसे कई लोग हैं जो गुरुवार को पैदल चलते दिखे। लॉक डाउन के कारण इस समय दिहाड़ी मजदूर सबसे अधिक परेशान हैं। ऋषिकेश से 22 लोगों का एक दल बरेली के लिए पैदल निकल पड़ा है। इन लोगों का कहना है कि लॉकडाउन लंबी अवधि का है। उनके पास खाने पीने को कुछ नहीं है। न जेब में पैसा है। ऐसे में उनका यहां से निकलना ही ठीक है। दल में शामिल धर्मवीर सिंह व ओमवीर सिंह ने बताया कि वे ऋषिकेश से तड़के बरेली के लिए पैदल निकले हैं। उन्हें रास्ते भर में कहीं कोई मदद नहीं मिली। हाथ जोड़ने के बाद भी हाईवे में इक्का दुक्का मिले वाहन बिठाने को तैयार नहीं थे। इसलिए वे पैदल ही बरेली के लिए चल रहे हैं।