ALL political social sports other crime current religious administrative
लोन लेकर गोपनीय तरीके से प्लाॅॅट बेचने के मामले में आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज
July 22, 2020 • Sharwan kumar jha • crime

हरिद्वार। कोतवाली ज्वालापुर पुलिस ने दस लाख का लोन लेकर बिना लोन चुकाये गुपचुप तरीके से सम्पत्ति बेचे जाने के मामले में दपंत्ति के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया है। आरोप है कि निजी फाइंनेंस कंपनी से प्लॉट खरीदकर मकान बनाने के नाम पर करीब 10 लाख रुपये का लोन लेने के बाद दंपती ने बिना किश्त चुकाए संपत्ति बेच दी। कंपनी की ओर से दी गई तहरीर के आधार पर ज्वालापुर कोतवाली में दादूपुर गोविदपुर निवासी पति-पत्नी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक इंडिया बुल्स हाउसिग फाइनेंस कंपनी के प्रतिनिधि सत्यव्रत कुमार ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि अक्षय कुमार और उनकी पत्नी निशा निवासी दादूपुर गोविदपुर सलेमपुर ने वर्ष 2017 में लोन के लिए आवेदन किया था। जिसमें उन्होंने बताया था कि उन्हें दादूपुर गोविदपुर के पास तिरूपति एनक्लेव कॉलोनी में डा. जुल्फिकार निवासी कस्साबान ज्वालापुर से प्लॉट खरीदने और मकान बनाने के लिए लोन की आवश्यकता है। लोन के लिए उन्होंने संपत्ति के दस्तावेज भी कंपनी को बंधक के तौर पर दिए थे। जिसके बाद कंपनी ने अलग-अलग किश्तों में डॉ. जुल्फिकार के बैंक खाते में 5.71 लाख रुपये और अक्षय कुमार के बैंक खातों में 1.71 लाख व 2.28 लाख रुपये व एक अन्य खाते में 49 हजार रुपये का भुगतान कर दिया। आरोप है कि कुछ दिन किश्त जमा करने के बाद कंपनी का लोन नहीं चुकाया। कुछ दिन पहले कंपनी को पता चला कि अक्षय कुमार ने यह संपत्ति रवि कुमार निवासी सलेमपुर महदूद को बेच दी है। पुलिस को दी गई तहरीर में बताया गया कि आरोपितों पर कंपनी के 10.51 लाख रुपये बकाया हैं। ज्वालापुर कोतवाल प्रवीण सिंह कोश्यारी ने बताया कि आरोपित अक्षय व उनकी पत्नी निशा निवासीगण दादूपुर गोविदपुर के खिलाफ धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जांच कर कार्रवाई की जाएगी।