ALL political social sports other crime current religious administrative
मानसून की पहली बारिश से हुई जलभराव में फसी गाड़िया
July 7, 2020 • Sharwan kumar jha • current

जलभराव के लिए पूर्व सभासद ने शहरी विकास मंत्री के ठहराया जिम्मेदार

हरिद्वार। मंगलवार दोपहर बाद हुई मानसून की पहली तेज बारिश के बाद एक बार फिर सड़कों पर जलभराव होने से लोगों को बेहद परेशानी का सामना करना पड़ा। कुछ ही देर हुई बारिश से शहर के व्यस्तम चंद्राचार्य चैक पर जल भराव के बाद कांग्रेसी नेता ने प्रदर्शन कर शहरी विकास मंत्री पर आरोप, जड़ दिये। बरसात के बाद चंद्राचार्य चैक, भगत सिंह चैक के समीप रेल पुलिया के नीचे जलजमाव होने पर गाड़ियां पानी में फंस गयी। पानी में फंस कर बंद हुई कई गाड़ियों को क्रेन के जरिए निकालना पड़ा। हर साल बरसात में जलभराव की समस्या झेल रहे चंद्राचार्य चैक व भगतसिंह चैक इलाके में मंगलवार की दोपहर बाद हुई तेज बारिश के बाद कई फीट पानी भर गया। भेल, ज्वालापुर, रोशनबाद को जाने वाले प्रमुख मार्ग पर बरसाती पानी भरने से लोगों भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। भगत सिंह चैक के समीप रेल पुलिया के नीचे हुए जलभराव के बीच से निकलने के चक्कर में कई गाड़ियां बरसाती पानी में फंसकर बंद हो गयी। चंद्राचार्य चैक पर भी दो से तीन फीट पानी भरने से घंटों तक आवागमन पूरी ठप्प रहा। जलभराव की सूचना पर पहुंचे मेयर पति अशोक शर्मा ने लंबे समय से चली आ रही जलभराव की समस्या का समाधान नहीं होने पर शहरी विकास मंत्री को जिम्मेदार ठहराते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ प्रदर्शन किया। अशोक शर्मा ने कहा कि उत्तराखण्ड के अलग राज्य के रूप में वजूद में आने के बाद से ही शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक हरिद्वार के विधायक चले आ रहे हैं। चंद्राचार्य चैक व आसपास के इलाकों में प्रतिवर्ष बरसाती पानी जमा होने का आज तक कोई समाधान विधायक नहीं करा पाए हैं। जलभराव होने से हर साल व्यापारियों व आसपास की कालोनियों में रहने वाले लोगों को नुकसान उठाना पड़ता है। उन्होंने कहा कि शहरी विकास मंत्री केवल अपनी राजनीति चमकाने में लगे हुए हैं। शहर के लोगों की समस्याओं से उन्हें कोई लेना देना नहीं है। इस दौरान सुनील कड़च्छ, सुमित भाटिया, मनोज जाटव सहित कई कांगे्रस कार्यकर्ता मौजूद रहे।