ALL political social sports other crime current
मांगो को लेकर जरनल ओबीसी कर्मचारियों की हड़ताल 12वें दिन भी जारी,
March 13, 2020 • Sharwan kumar jha

कर्मचारियों ने दी आंदोलन तेज करने की चेतावनीकर्मचारियों ने दी आंदोलन तेज करने की चेतावनी

हरिद्वार। पदोन्नति में आरक्षण खत्म करने सहित विभिन्न मांगो को लेकर जारी उत्तराखंड जनरल ओबीसी इंप्लाइज एसोसिएशन के कर्मचारियों की हड़ताल 12वें दिन भी जारी रही। जिला कलक्ट्रेट, कोषागार कार्यालय,सहित विभिन्न शासकीय विभागों में हड़तालं जारी रहने से तमाम विकास कार्य अटक गये। मार्च का महीना होने के बाद भी कर्मचारियों की बदस्तूर हड़ताल ने आम लोगो की परेशानियों को और बढ़ाने का कार्य किया है। आंदोलनरत  कर्मचारी राज्य सरकार से सुप्रीम कोर्ट के आदेश को शासनादेश के रूप में तत्काल जारी करने की मांग पर अड़े हुए हैं। कर्मचारियों का कहना है कि जब तक सरकार मांग पूरी नहीं करती, तब तक कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल से हटने वाले नहीं हैं। ओबीसी कर्मचारी प्रमोशन में आरक्षण खत्म करने और प्रमोशन पर लगी रोक हटाने की मांग कर रहे हैं।हड़ताल में समाज कल्याण विभाग, आईटीआई, मत्स्य, कृषि, सहकारिता, शिक्षा, सेल टैक्स, एआरटीओ, ग्राम विकास सहित दर्जनों विभाग के काम पूरी तरह ठप हैं। एससी एसटी वर्ग के कर्मचारी ही कार्य पर डटे हुए हैं। उत्तराखंड जनरल ओबीसी इंप्लाइज एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष दीपक राजपूत ने कहा कि राज्य सरकार जनरल ओबीसी कर्मचारियों के साथ भेदभाव कर रही है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कई सत्ताधारी पार्टी के विधायकों ने उनको समर्थन देकर मुख्यमंत्री को ज्ञापन भी प्रेषित किया है। लेकिन मुख्यमंत्री उसका भी संज्ञान नहीं ले रहे हैं। यह अत्यंत निंदनीय है। सचिव देवेंद्र रावत ने कहा कि सरकार जनरल ओबीसी कर्मचारियों की परीक्षा न ले। यह लड़ाई वेतन भत्ता बढ़ाने की मांग नहीं है, बल्कि जनरल ओबीसी कर्मचारियों के आने वाली युवा पीढ़ी के भविष्य की लड़ाई है। कहा कि आगामी 15 मार्च को अपराह्न तीन बजे से हरिद्वार में विशाल बाइक रैली का आयोजन किया जाएगा। बाइक रैली आर्य नगर चैक ज्वालापुर से देवपुरा चैक होते हुए शिव मूर्ति तक जाएगी। वहां से यू टर्न लेकर तुलसी चैक नगर निगम कार्यालय पर संपन्न होगी।प्रमोशन में आरक्षण मौलिक अधिकारः मदनबहादराबाद। उत्तराखंड एससी-एसटी इंप्लाइज फेडरेशन के जिला अध्यक्ष मदन पाल सिंह ने कहा कि एससी एसटी वर्ग का हर कर्मचारी अपने विभाग से जुड़ा हर कार्य करने में सक्षम है। वह ईमानदारी से अपने कार्य में जुटा हुआ है। और जब तक जनरल ओबीसी के कर्मचारी हड़ताल से वापस नहीं लौटते, तब तक हर कर्मचारी पूरी ताकत के साथ कार्य में जुटे हुए हैं। मदन पाल सिंह ने कहा कि प्रमोशन में आरक्षण किसी भी कीमत पर खत्म नहीं करने दिया जाएगा। यह उनका मौलिक अधिकार है। संविधान ने उन्हें यह अधिकार दिया है। उसके लिए एससी एसटी कर्मचारी हर आंदोलन के लिए तैयार हैं। 15 मार्च को रुड़की में प्रदेश स्तर का कार्यक्रम होगा। कार्यक्रम में आगे की रूपरेखा तैयार की जाएगी।