ALL political social sports other crime current religious administrative
मॉक ड्रिल के दौरान गैस प्लांट के आस-पास के निवासियों में रहा दहशत का माहौल
August 18, 2020 • Sharwan kumar jha • other

हरिद्वार। बहादराबाद स्थित इण्डेन बाॅटलिंग गैस प्लांट की आन्तरिक सुरक्षा परखने के लिए मंगलवार को माॅक अभ्यास किया गया।मंगलवार को अचानक इण्डेन बाॅटलिंग गैस प्लांट बहादराबाद में एलपीजी गैस लिकेज के कारण आग लग गई। जिसके कारण प्लांट में आपातकालीन सायरन की आवाज गूंजने लगी। गैस लीकेज से प्लांट के कर्मचारियों में दहशत का माहौल हो गया। जिससे प्लांट को तुरन्त बन्द कर दिया गया। प्लांट कर्मचारियों में टीम के प्रमुख दीपक कुमार ने तुरंत प्लांट हैड डीजीएम अशोक कुमार को सूचना दी और प्रतिरोधक टीम, सहायक टीम, बचाव टीम संसाधनों से लैस होकर घटना स्थल की ओर दौड़ी। डीजीएम अशोक कुमार ने जिला प्रशासन की ओर से रेड क्रास सचिव डा.नरेश चैधरी, फायर ब्रिगेड प्रभारी शिशुपाल सिंह नेगी, सीआईएसएफ, गेल को भी तुरंत सूचना दी गई। डा.नरेश चैधरी के नेतृत्व में सभी टीम के सदस्यों ने बाॅटलिंग गैस प्लांट पहुंचकर आग पर काबू पाने की कोशिश की। घटना में चार कर्मचारी घायल हो गये जिनको रेडक्रास की टीम द्वारा प्राथमिक उपचार दिया गया। विदित हो कि जिलाधिकारी सी.रविशंकर ने स्पष्ट रूप से सभी इण्डस्ट्री, बाॅटलिंग गैस प्लांट, आयल डिपो के अधिकारियों को निर्देश दिये हुये हैं कि समय-समय पर अपनी अपनी आन्तरिक एवं बाह्य सुरक्षा को परखने के लिए माॅक ड्रिल करते रहना प्राथमिकता होनी चाहिए। जिससे समय रहते हुये इस प्रकार की आपदाओं से बचा जा सके एवं सम्बन्धित उपकरणों तथा संसाधनों की जांच भी हो सके। इसी क्रम में इण्डियन रेड क्रास के तत्वाधान में माॅक अभ्यास किया गया। माॅक अभ्यास के दौरान गैस प्लांट के आसपास रहने वाले निवासी भी डर गये थे कि गैस प्लांट में कोई बड़ा हादसा हो गया है। लेकिन जब क्षेत्रवासियों को मॉक ड्रिल का पता लगा तब लोगो ने राहत की सास ली। माॅक ड्रिल के बाद टीम विशेषज्ञों द्वारा सभी टीम के सदस्यों को उनकी कमियों को अवगत कराते हुये भविष्य में सुधार की अपेक्षा की गई। माॅक अभ्यास में इण्डेन बाॅटलिंग गैस प्लांट के डीजीएम अशोक कुमार, डीएसओ दीपक कुमार, प्रतिरोधक टीम के प्रमुख विनोद कुमार राजपूत, सहायक टीम के प्रमुख पुष्पेन्दर सिंह बचाव टीम के प्रमुख कुलवंत सिंह, रेडक्रास सचिव डा.नरेश चैधरी, फायर ब्रिगेड प्रभारी शिशुपाल सिंह नेगी, सीआईएसएफ से विपिन शर्मा, गेल से आशीष सिंह की अपनी अपनी टीम के सदस्यों के साथ सक्रिय सहभागिता रही। अन्त में गैस प्लांट के अधिकारियों कर्मचारियों को काविड-19 कोरोना महामारी से बचाव एवं रोकथाम तथा डेंगू से भी बचाव एवं रोकथाम के लिए विस्तृत जानकारी रेडक्रास सचिव डा. नरेश चैधरी ने दी। सम्पूर्ण मॉक अभ्यास के दौरान कोविड 19 के दिशा निर्देशन का पालन किया गया। अंत में मॉक ड्रिल में प्रतिभाग करने वाले अधिकारियों कर्मचारियों को डीजीएम अशोक कुमार द्वारा धन्यवाद ज्ञापित किया गया।