ALL political social sports other crime current religious administrative
नई शिक्षा नीति के विरोध में कांग्रेस सेवादल यंग ब्रिगेड कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन
September 5, 2020 • Sharwan kumar jha • other

हरिद्वार। कांग्रेस सेवादल यंग ब्रिगेड के प्रदेश उपाध्यक्ष विशाल राठौर के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने भगतसिंह चैक पर नई शिक्षा नीति लागू किए जाने का विरोध किया। सेवादल के कार्यकर्ताओं शिक्षा का बाजारीकरण करने का आरोप भी लगाया। कांग्रेस सेवादल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालजी देसाई व प्रदेश अध्यक्ष राजेश रस्तोगी के आह्वान पर आयोजित विरोध प्रदर्शन के दौरान प्रदेश उपाध्यक्ष विशाल राठौर ने कहा कि नई शिक्षा नीति तोड़ मरोड़कर पेश की जा रही है। नई शिक्षा नीति से शिक्षा के बाजारीकरण को बढ़ावा मिलेगा। पूर्व की शिक्षा नीति में स्कूली बच्चों को छह वर्ष से चैदह वर्ष तक निःशुल्क शिक्षा प्रदान करने की व्यवस्था थी। लेकिन नई शिक्षा नीति में यह व्यवस्था नहीं है। नई शिक्षा नीति में राष्ट्रभाषा हिन्दी के इस्तेमाल से स्कूली बच्चों को अलग थलग किया जा रहा है। राज्य की भाषा को तरजीह देने का काम किया गया है। जातिगत आधार को बनाकर शिक्षा नीति में लागू किया जाना सरासर गलत है। हिंदी भाषा का अधिक से अधिक इस्तेमाल किया जाना चाहिए। ना कि राज्य की भाषाओं को तरजीह देना। विशाल राठौर ने कहा कि शिक्षा ग्रहण कर रहे बच्चों को रोजगार परक बनाने की नीति भी गलत है। जो बच्चा शिक्षा ग्रहण करेगा वह अन्य टायर पंचर, बढई का काम, लुहार का काम जैसे कामों को शिक्षा ग्रहण करते समय क्यों सीखेगा। प्रदेश महामंत्री सत्य नारायण शर्मा ने कहा कि शिक्षा का बाजीकरण किसी भी रूप में सहन नहीं किया जाएगा। उच्च शिक्षा के मापदण्डों में कई तरह के फेरबदल किए गए हैं। आर्थिक रूप से संपन्न परिवार ही इस शिक्षा नीति के तहत अपने बच्चों को शिक्षा ग्रहण करा पाएंगे। बोर्ड प्रणाली को भी प्रभावित किया जाना गलत है। शहर अध्यक्ष नितिन यादव ने कहा आर्थिक रूप से कमजोर वर्गो को ध्यान में रखकर नई शिक्षा नीति लागू की जानी चाहिए थी। उच्च शिक्षा के मापदण्ड किसी भी रूप से सही नजर नहीं आ रहे हैं। सेमेेस्टर के तहत शिक्षा प्रणाली को लागू किया गया है। एम फिल की डिग्री को भी समाप्त करने का काम किया गया। नई शिक्षा नीति किसी भी रूप में कारगर नहीं होने वाली है। कांग्रेस सेवादल नई शिक्षा नीति की कमियों को लेकर आमजनमानस को भी जागरूक करने का काम करेगी। प्रदर्शन करने वालों में प्रदर्शन करने वालों में महानगर अध्यक्ष नितिन कौशिक, महिला महानगर अध्यक्ष स्वाति शर्मा, शहर महासचिव आर्यन राठौर, अशरफ अब्बासी, दीपक, सन्नी, कमलजीत कौर, प्रियांशी, भूपेंद्र, मंजीत नौटियाल, लक्की वर्मा आदि शामिल रहे।