ALL political social sports other crime current
निर्मल अखाड़े ने प्रशासन को उपलब्ध कराए भोजन के पैकेट
March 25, 2020 • Sharwan kumar jha

हरिद्वार। कोरोना संकट में संत समाज सहयोग के लिए लगातार आगे आ रहा है। बुधवार को कनखल स्थित श्री पंचायती अखाड़ा निर्मल की और से प्रशासन को भोजन के पांच सौ पैकेट उपलब्ध कराए गए। अखाड़े की और से उपलब्ध कराए गए भोजन के पैकेटों को निराश्रित व सड़कों पर गुजर बसर करने वाले गरीबों को बांटा जाएगा। अखाड़े के अध्यक्ष श्रीमहंत ज्ञानदेव सिंह महाराज ने कहा कि कोरोना के रूप में पूरी दुनिया पर संकट में है। संकट की इस घड़ी में गरीबों की मदद करना सबका दायित्व है। परोपकार भारत की संस्कृति और मानवता सबसे बड़ा धर्म है। ऐसे में सभी को मानवता का पालन करते हुए गरीबों की मदद के लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि धर्मनगरी हरिद्वार में बड़ी संख्या में भिक्षुक व निराश्रित भी रहते हैं। घाटों, रेलवे स्टेशन, बस स्टैण्ड व सड़कों पर जीवन बसर करने वाले तमाम निराश्रितों के सामने भोजन का संकट उत्पन्न हो गया है। ऐसे में गरीब निराश्रितों की मदद के लिए अखाड़े की और से भोजन के पांच सौ पैकेट प्रशासन को उपलब्ध कराए गए हैं। कोठारी महंत ज्ञानदेव सिंह महाराज ने कहा कि कोरोना को फैलने से रोकेने के लिए सरकार ने लाॅकडाऊन करने का फैसला किया है। इस विश्वव्यापी बीमारी का भारत में फैलाव ना हो। इसके लिए लाॅकडाऊन जैसा उपाय बेहद जरूरी है। सभी को लाॅकडाऊन का पालन करना चाहिए। इस दौरान महंत सतनाम सिंह, महंत अमनदीप सिंह, महंत खेमसिंह, संत सुखमन सिंह, संत जसकरण सिंह, संत रोहित सिंह, संत विष्णु सिंह आदि मौजूद रहे।