ALL political social sports other crime current religious administrative
ऑल इंडिया स्टेशन मास्टर्स एसोसिएशन ने पावर डे मनाते हुए विरोध जताया
August 11, 2020 • Sharwan kumar jha • other

हरिद्वार। ऑल इंडिया स्टेशन मास्टर्स एसोसिएशन के बैनर तले पावर डे मनाते हुए विरोध जताया। मांगों को लेकर एक पत्र रेलवे के विभिन्न स्तरों पर अधिकारियों को दिया गया। जोनल अध्यक्ष जीएस परिहार ने बताया कि आइस्मा ने स्टेशन मास्टरों के साथ साथ रेलवे के फ्रंट लाइन स्टाफ को अन्य कोरोना वारियर्स की तरह 50 लाख का बीमा देने की सुविधा, रेलवे का निजीकरण न किए जाने की मांग की है। पिछले दिनों देश के विभिन्न भागों में पांच स्टेशन मास्टरों की कोरोना से मौत हुई। आज भी स्टेशन मास्टर, फ्रंट लाइन रेलकर्मी अपनी जान जोखिम में डालकर 24 घंटे ड्यूटी कर रहे हैं। पावर डे के तहत आज केंद्रीय कार्यकारिणी ने प्रधानमंत्री, रेलमंत्री, चेयरमैन रेलवे बोर्ड को दो मांगों के लिए ज्ञापन भेजा है। मांगों को लेकर जोन स्तर पर महाप्रबंधक, मुख्य परिचालन प्रबंधक व मुख्य कार्मिक प्रबंधक, मंडल स्तर पर मंडल रेल प्रबंधक, प्रवर मंडल परिचालन प्रबंधक, प्रवर मंडल कार्मिक अधिकारी को पूरे देश में डिजिटल के माध्यम ज्ञापन भेजे गए हैं। बताया कि मुरादाबाद के अलावा लखनऊ, फिरोजपुर, दिल्ली, अम्बाला उत्तर रेलवे के मुख्यालय बड़ौदा हाउस नई दिल्ली में निजीकरण के विरोध और स्टेशन मास्टरों को 50 लाख का बीमा दिए जाने के संबंध में ज्ञापन भेजा गया है।