ALL political social sports other crime current religious administrative
पार्टी नेताओं के साथ यूपी पुलिस द्वारा अभद्रता के विरोध में कांग्रेसियों का मौन सत्याग्रह
October 5, 2020 • Sharwan kumar jha • political

हरिद्वार। हाथरस काण्ड के पीड़ितों से मिलने जा रहे राहुल गांधी व प्रियंका गांधी सहित विपक्ष के नेताओं के साथ यूपी पुलिस द्वारा धक्का मुक्की व अभद्रता के विरोध में महानगर कांग्रेस कमेटी के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भेल स्थित गांधी पार्क में मौन सत्याग्रह किया। सत्याग्रह की शुरूआत राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के प्रिय भजन रघुपति राघव राजाराम से की गयी। इस दौरान प्रदेश महासचिव डा.संजय पालीवाल ने कहा कि योगी सरकार के कुशासन के चलते उत्तर प्रदेश में कायम जंगलराज के चलते पीड़ितों को न्याय नहीं मिल रहा है। पूरे देश को झकझोर देने वाले हाथरस के काण्ड के पीड़ितों से मिलने जा रहे विपक्ष के नेताओं को पुलिस के जरिए बल प्रयोग कर यूपी सरकार रोक रही है। पीड़ितों से मिलने जा रहे पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ पुलिसकर्मियों द्वारा जिस प्रकार बदसलूकी की गयी। उससे साफ हो गया है कि भाजपा राज में गरीबों को न्याय मिलना मुश्किल हो गया है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता व पूर्व विधायक अंबरीष कुमार ने कहा कि यूपी में जंगलराज के चलते बेटियां सुरक्षित नहीं है। आए दिन गरीब बेटियों के साथ हत्या व रेप जैसी घटनाएं हो रही हैं। हाथरस में दलित समाज की युवती की रेप के बाद हत्या कर दी गयी। पीड़िता को न्याय देने के बजाए उसके परिवार से अंतिम संस्कार का हक तक छीन लिया गया। पुलिस ने तमाम सामाजिक व धार्मिक मान्यताओं को दरकिनार आधी रात को पीड़िता का शव जल दिया। यूपी सरकार पीड़ित परिवार को न्याय देने के बजाए उनके दुख में शामिल होने जा रहे कांग्रेस नेताओं को बलपूर्वक रोक रही है। जिससे साफ है कि भाजपा का लोकतंत्र में विश्वास नहीं है। इस दौरान महानगर अध्यक्ष संजय अग्रवाल, जिला अध्यक्ष ग्रामीण धर्मपाल सिंह, पूर्व विधायक रामयश सिंह, प्रदेश सचिव पूनम भगत, महेश प्रताप राणा,श्रमिक नेता राजवीर सिंह, प्रदेश महासचिव सतीश कुमार, मेयर प्रतिनिधि अशोक शर्मा, डा.समीर सिंह, अनिल भास्कर, आशीष गोस्वामी, चैधरी बलजीत सिंह, यशवंत सिंह सैनी, शुभम अग्रवाल, रवि कश्यप, डा.दिनेश पुंडीर, बाबू मेहर सिंह, चैधरी गुलबीर सिंह, कैलाश प्रधान, बलराम राठौर, रोहताश सैनी, सुनील सिंह, विक्की कोरी, पार्षद इसरार अहमद, नीलम शर्मा, पार्षद जफर अब्बासी, पार्षद तहसीन अहमद, अंजू द्विवेदी, बी.एस.तेजियान, धर्मपाल ठेकेदार, पार्षद प्रतिनिधि पुनीत कुमार, वीरेन्द्र शर्मा, जगदीप असवाल, मनोज जाटव, संदीप गौड़, लक्ष्मी प्रसाद, राजेश चैहान, योगेंद्र राणा,अशोक उपाध्याय, बलराज दाबड़े, वेदपाल तेजियान, छोटू जयंत, हितेश चैहान, राजेंद्र श्रीवास्तव, अनिल भास्कर, वसीम सलमानी, नरेश सेमवाल, मिर्जा नौशाद बेग आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।