ALL political social sports other crime current religious administrative
पर्यटन अधिकारी ने किया कई होटलों का निरीक्षण,तीन होटल संचालको को भेजा नोटिस
June 17, 2020 • Sharwan kumar jha • administrative

हरिद्वार। होटल संचालको द्वारा अनलाॅकडाउन के दौरान गाईड लाइन का उल्लघंन करने की सूचना पर जिला पर्यअन अधिकारी ने कई होटलों का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस दौरान पाया गया कि होटल संचालकों ने लॉकडाउन का उल्लंघन करते हुए यात्रियों को अवैध रूप से कमरे दे दिए। मंगलवार देर रात चलाए गए छापेमारी अभियान में कार्रवाई करने के लिए पहुंची जिला पर्यटन विकास अधिकारी के साथ भी एक होटल मालिक ने अभद्रता की। बाद में आरोपित होटल छोड़कर फरार हो गया। सभी होटलों के रजिस्टर जब्त करने के बाद मौके पर चालान काट दिया गया। विभाग आरोपितों को नोटिस जारी करने की तैयारी कर रहा है। दरअसल, हरिद्वार में मंगलवार देर रात जिला पर्यटन विकास अधिकारी सीमा नौटियाल ने धर्मनगरी के होटलों में छापामारा। कार्रवाई के दौरान रेलवे स्टेशन के सामने शिव मूर्ति वाली गली में स्थित श्री गणेश यात्री होटल में जब जिला पर्यटन विकास अधिकारी पहुंचीं, तो देखा कि वहां कुछ लोगों को अवैध रूप से ठहराया गया है। इसकी जानकारी न तो विभाग को उपलब्ध कराई गई और न ही पुलिस को। उन्हें बिना क्वारंटाइन अवधि के ही होटल से जाने भी दिया जा रहा था। इस बाबत मौके पर मौजूद होटल संचालक कुनाल से पूछा गया, तो वो जिला पर्यटन विकास अधिकारी से ही बहस करने लगा। इस दौरान उसने पर्यटन अधिकारी के साथ अभद्र व्यवहार भी किया। इसके बाद वह मौका पाकर फरार हो गया। होटल सन्याल इन में हरियाणा के यात्रियों को बिना अनुमति रोका गया था। उसमें भी गाइडलाइन का पालन नहीं किया गया था। एक-एक कमरे में कई यात्रियों को रखा गया था। इसके बाद श्रवणनाथ नगर में स्थित होटल शिवमूर्ति क्लासिक में तो दो जून से ही यात्रियों को कमरे देने की बात सामने आई। जबकि सरकार की ओर से इसकी छूट आठ जून से दी गई।  इसके साथ ही तीनों होटल सचांलकों ने विभाग में पंजीकरण भी नहीं कराया था, जिससे तीनों होटल संचालकों को मौके पर ही मायापुर पुलिस चैकी इंचार्ज संजीत कंडारी ने ढाई-ढाई सौ रुपये का चालान काट दिया। जिला पर्यटन विकस अधिकारी सीमा नौटियाल ने बताया कि तीन होटल संचालकों के रजिस्टर जब्त कर लिए गए हैं। तीनों को कार्रवाई के लिए नोटिस भेजे जा रहे है। इसके बाद इनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।