ALL political social sports other crime current
पीठ बाजार में दुकानें नही लगाने देने के भेल प्रशासन के निर्णय पर जताया रोष
March 20, 2020 • Sharwan kumar jha

हरिद्वार। भेल सेक्टर वन पीठ बाजार में दुकानें नहीं लगाने देने पर शिवसेना कार्यकर्ताओं ने जिला प्रमुख चरणजीत पाहवा के नेतृत्व में भेल प्रशासन के प्रति रोष प्रकट किया। इस दौरान चरणजीत पाहवा ने कहा कि कोरोना के चलते भेल प्रशासन ने सेक्टर वन में लगने वाले साप्ताहिक पीठ बाजार में कुछ दुकानदारों को दुकानें नहीं लगाने दी। भेल प्रशासन की यह नीति पूरी गलत है। सभी दुकानदारों के साथ समान व्यवहार किया जाना चाहिए। भेदभावपूर्ण नीति बर्दाश्त नहीं की जाएगी। चरणजीत पाहवा ने कहा कि पीठ बाजार में दुकान लगाकर लघु व्यापारी अपने परिवार का भरण पोषण करते हैं। दुकानें नहीं लगाने देने से व्यापारियों को भारी नुकसान हुआ है। बबलू शर्मा ने कहा कि लघु व्यापारियों को विकल्प देना चाहिए। एहतियात सभी लघु व्यापारी बरत रहे हैं। कोरोना वायरस के कारण पहले से ही रोजगार चैपट हो चुका है। व्यापारी अन्य लोगों को भी कोरोना के प्रति जागरूक कर रहे हैं। लेकिन भेल क्षेत्र में लगने वाली पीठ बाजार पर सभी लघु व्यापारियों का रोजगार निर्भर करता है। ऐसे में पीठ नहीं लगने के कारण परिवारों के समक्ष आर्थिक परेशानियां खड़ी हो रही हैं। सेक्टर वन भेल पीठ में कुछ दुकानें तो लगवा दी गयी है। लेकिन कुछ लघु व्यापारियों को दुकानें नहीं लगाने दिया जा रहा है। ओपी गौतम ने कहा कि एक समान नीति अपनायी जानी चाहिए। भेल प्रशासन ने सब्जी, फल आदि बेचने वाले दुकानदारों को दुकानें लगाने की अनुमति दे दी। लेकिन अन्य सामान बेचने वाले दुकानदारों को दुकानें नहीं लगाने दी गयी। प्रशासन की इस भेदभावपूर्ण नीति से व्यापारी आहत हैं। नाराजगी जताने वालों में सोनू, मुकेश उपाध्याय, जावेद, गुड्डु, आबाद कुरैशी, राहुल, राजेश, मास्टर रामपाल, सुन्दरलाल, रोहित, बिट्टू अनिल आदि सहित दर्जनों व्यापारी शामिल रहे।