ALL political social sports other crime current religious administrative
फर्जी दरोगा बनकर चोरी करने वाले आरोपी को पुलिस ने दबोचा,
May 14, 2020 • Sharwan kumar jha • crime

हरिद्वार। फर्जी दरोगा बनकर हजारों की चोरी करने के आरोपी को कोतवाली ज्वालापुर ने गिरफ्तार करते हुए दो चोरी की घटनाओं का खुलासा किया है। आरोपी ने आर्यनगर के अलावा शिवालिक नगर में भी फर्जी दरोगा बनकर हजारों की चोरी की थी। पुलिस ने आरोपी के पास से हजारो की नगदी,दो मोबाइल के अलावा कई कागजात बरामद की है। पुलिस के अनुसार  कोतवाली क्षेत्रांतर्गत आर्यनगर स्थित एस.बी.आई. ग्राहक सेवा केन्द्र से फजी दरोगा बनकर ताला तोडकर नगदी व मोबाइल चोरी किये जाने की घटना का खुलासा करते हुए कोतवाली ज्वालापुर की पुलिस टीम ने सीसीटीवी फुटेज व कॉल डिटेल विश्लेष्ण के आधार पर अभियुक्त की तलाश प्रारम्भ कर दी। पुलिस नेे मुखबिर की सूचना के आधार पर अहबाबनगर ज्वालापुर से साकिर पुत्र शकील अहमद नि0 ग्राम इक्कड खुर्द थाना पथरी हरिद्वार को पकड कर इसकी तलाशी लेते हुए पूछताछ की गयी तो उसके पास से दो मोबाइल,बारह हजार नगद के अलावा अन्य कागजात बरामद की है। पुलिस द्वारा पूछताछ करने पर साकिर ने बताया कि गत 9मई को एसबीआई ग्राहक सेवा केन्द्र आर्यनगर में कार्य करने वाली महिला को अपने फोन से दरोगा बनकर सिंह द्वार पर बुलाया व इसी दौरान जब वहां काम करने वाली दोनो महिलायें आफिस बन्द करके सिंह द्वार चली गयी तो मैने उस आफिस के शीशे का दरवाजे का ताला तोड कर वहां से 13000/रु0 नगदी व एक फोन सैमसंग कम्पनी का जो मुझसे बरामद हुआ है चोरी कर लिया था। मेरी जेब में मिले 12000/व सैमसंग का कीपैड वाला फोन उसी चोरी का है चोरी मे मिले बाकी रुपये मैने खर्च कर दिये । पुलिस ने आरोपी की पिछली जेब से एक पर्स में से रजनीश सैनी पुत्र दिनेश सैनी नि0 रावली महदूद का निर्वाचन आयोग का पहचान पत्र व आधार कार्ड के अलावा 5000/-रु0 बरामद हुए। पूछताछ करने पर साकिर ने बताया कि मेरे पास जो पर्स व उसमें रखे 5000/-रु0 व आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड व उसमें रखी फोटो बरामद हुए हैं यह मैने परसों ही शिवालिक नगर में मेडिकल स्टोर वाले को फोन करके कि मैं थाने से दरोगा बोल रहा हूँ थाने में किसी की तबियत खराब है तुम दवाई ले कर आ जाओ कहकर उसे दुकान से हटाया व मौका पाकर दुकान पर जाकर दुकान के गल्ले से 7000/-रुपये व उसमे रखा पर्स चोरी कर लिया था। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेजने की तैयारी शुरू कर दी है।