ALL political social sports other crime current religious administrative
पुलिस ने तय समय के बाद बाहर निकलने पर सख्ती,गंगा आरती में नही हो सकेगे शामिल
June 13, 2020 • Sharwan kumar jha • administrative

हरिद्वार। शाम सात बजे के बाद भी सड़कों पर घूमने वालों के खिलाफ पुलिस ने सख्ती बरतनी शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार हरिद्वार में अब शाम 7 बजे के बाद अनावश्यक रूप से घर से बाहर निकलने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। वहीं हर की पौड़ी पर भी सात बजे बाद श्रद्धालु नहीं रुक पाएंगे। ऐसे में गंगा आरती में शामिल होने वाले लोगों को बीच में ही आरती छोड़कर जाना पड़ेगा। गंगा आरती करीब पौने सात बजे शुरू होती है और करीब साढ़े सात बजे तक चलती है। पुलिस के अनुसार शाम 7 बजे के बाद हर की पौड़ी पर रुकने लोगों के खिलाफ पुलिस लॉकडाउन उल्लंघन का मुकदमा करेगी। लाॅकडाउन चार समाप्त होने के बाद सरकार ने 1जून से अनलॉक-1 को लागू करते हुए लोगों को सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक छूट दी है। लेकिन तीर्थनगरी के कई क्षेत्रों में लोग अनावश्यक रूप से सायं सात बजे के बाद भी घरों से बाहर निकल कर सड़कों पर घूमते नजर आ रहे थे। शासन द्वारा इस सम्बन्ध में नाराजगी के बाद गुरुवार की रात से पुलिस ने पूरे जिले में सख्ती बढ़ा दी। जगह-जगह पुलिस ने पहुंचकर बाहर घूम रहे लोगों को फटकार लगाई और मुकदमा दर्ज करने की चेतावनी भी दी। नगर कोतवाली, रानीपुर और कनखल पुलिस ने शुक्रवार से बाहर निकलने वाले लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का अनाउंसमेंट भी कराया। वहीं गंगा आरती को लेकर भी पुलिस ने श्रीगंगा सभा के पदाधिकारियों से बातचीत की है। उधर उच्चाधिकारियों ने हर की पौड़ी पुलिस को निर्देश दिये हैं कि हर की पौड़ी पर 7 बजे के बाद किसी भी यात्री या फिर अन्य लोगों को न रुकने दिया जाए। श्रीगंगा सभा के पदाधिकारियों और पुजारियों को इसमें छूट दी गई है। क्योंकि ये लोग गंगा आरती करते हैं। इसके अलावा बाहर से आने वाले या फिर स्थानीय लोगों को सात बजे के बाद हर की पौड़ी पर नहीं रुकने दिया जाएगा।