ALL political social sports other crime current religious administrative
रामकृष्ण मिशन द्वारा चार हजार से अधिक परिवारों को कराया जा चुका है राशन उपलब्ध
May 1, 2020 • Sharwan kumar jha • social

हरिद्वार। कोरोना संकट के चलते पूर्ण बंदी के इस दौर में स्वामी विवेकानंद द्वारा स्थापित रामकृष्ण मिशन सेवा आश्रम जरूरतमंदों के लिए बहुत बड़े सहारे के रूप में सामने आया है  23 दिन से लगातार रामकृष्ण मिशन के संत और चिकित्सक और अन्य स्टाफ के लोग  जरूरतमंदों की मदद करने के लिए उनके घरों और झुग्गी झोपड़ियों तक राहत सामग्री लेकर पहुंच रहे हैं। पिछले 9 अप्रैल से शुरू हुई इस अभियान ने अब तक 4 हजार से ज्यादा परिवारों को खाद्यान्न सामग्री वितरित की है, जिससे अब तक करीब 25 हजार सेे ज्यादा लोगों तक सुबह का नाश्ता दिन और रात का भोजन पहुंचाया जा चुका है। जिसमें अब तक करीब 40 से 50 लाख के बीच खर्च हो चुका है यह सब खर्च मिशन के द्वारा ही किया गया है। 9 अप्रैल को हरिद्वार के टीबड़ी और सेक्टर एक बीएचईएल पीठ बाजार के पास झुग्गी झोपड़ियों में खाद्यान्न पहुंचाने का कार्य मिशन के संतो ने शुरू किया। इस खाद्यान्न वितरण अभियान का उद्घाटन मिशन के सचिव स्वामी नित्यशुद्धानंद महाराज ने किया। रामकृष्ण मिशन के वरिष्ठ संत और इस नर सेवा नारायण सेवा के मुख्य संयोजक स्वामी दयाधिपानन्द, डॉ शिवकुमार ने बताया कि जिला प्रशासन के माध्यम से लोगो को चिन्हित करके उनको खाद्य सामग्री वितरित की जा रही है,। वहीं आज रानीपुर कोतवाली तथा ज्वालापुर कोतवाली क्षेत्र में करीब 300 से ज्यादा जरूरतमंद परिवारों खाद्य सामग्री बांटी गई खाद्य सामग्री वितरण करने के अभियान की शुरुआत सीओ सिटी अभय कुमार सिंह के कर कमलों से करवाई। इस अवसर पर बीएचएल के फाउंड्री गेट के आसपास रह रहे लोगो तथा धीरवाली और ज्वालापुर के सील किए गए पांवधोई आदि क्षेत्रों में खाद्य सामग्री वितरित की गई। इस अवसर पर ज्वालापुर कोतवाली और रानीपुर कोतवाली के इंस्पेक्टर तथा नगर निगम के पार्षद कई मुस्लिम समुदाय के गणमान्य व्यक्ति विभिन्न सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधि मौजूद थे। सीओ सिटी अभय कुमार सिंह ने कहा कि जरूरतमन्द परिवारों को खाद्य सामग्री वितरित करने का अभियान चलाकर मिशन के संतों ने मानवता की सच्चे अर्थों में सेवा की है उन्होंने कहा कि मानव सेवा ही सबसे बड़ा धर्म है। स्वामी दयाधिपानन्द महाराज ने कहा कि लॉक डाउन तक यह कार्यक्रम जारी रहेगा और मिशन हमेशा समाज केे वंचित लोगों की मदद करता रहा है और करता रहेगा। इस अवसर पर स्वामी अनाद्यानंद,स्वामी जगदीश महाराज,स्वामी महाकालानंदा,ब्रह्मचारी सचिन, रूपक, अमरजीत, किशन, जनार्दन, गोकुल सिंह, सुनील मुखर्जी आदि उपस्थित थे।