ALL political social sports other crime current
रामकृष्ण मिशन मठ द्वारा स्वास्थ्य के प्रति सजग रहने के अभियान चलाया जायेगा
March 12, 2020 • Sharwan kumar jha

हरिद्वार। श्री रामकृष्ण मिशन मठ एवं सेवाश्रम कनखल द्वारा स्वास्थ्य के प्रति सजग रहने के लिए जन जागरण अभियान चलाया जाएगा। लोगों में स्थानीय भौगोलिक परिस्थिति के अनुसार स्वास्थ्य की जागरूकता के प्रति उन्हें टिप्स दिए जाएंगे। मिशन में हृदय रोग के इलाज के लिए आए मरीजों और उनके परिजनों को ह्रदय रोग से बचाव के लिए एक पुस्तिका हिंदी और अंग्रेजी में भी निशुल्क वितरित की जाएगी। रामकृष्ण मिशन सेवाश्रम के परिसर में आयोजित सात दिवसीय स्वास्थ्य योग शिविर के समापन के अवसर पर मिशन ने यह फैसला लिया है। सात दिवसीय स्वास्थ्य योग शिविर के समापन पर मुख्य अतिथि और वक्ता के रूप में बोलते हुए अमेरिका से आए जानेमाने वरिष्ठ हृदय चिकित्सक डॉ सुशील कुमार शर्मा ने कहा कि हृदय रोग की बीमारी  से पीड़ित को लोगों को हृदय रोग की दवाई के सेवन के साथ-साथ ध्यान प्राणायाम योग की विभिन्न मुद्राएं और सुबह की सैर भी नियमित रूप से करनी चाहिए और अपने खानपान का विशेष ध्यान रखना चाहिए, क्योंकि हम नियमित जीवन शैली में बदलाव करके अपने स्वास्थ्य को सही रख सकते है।ं उन्होंने कहा कि लोक कल्याण के कार्यों में अपना समय दान कर हम कई मानसिक व्याधियों से बच सकते हैं जो हमें तनावमुक्त करती हैं। डॉक्टर शर्मा ने कहा कि हमारे मस्तिष्क से ऐसे तत्व निकलते हैं जो हमें दूसरे की ओर आकर्षित करते हैं। उन्होंने कहा कि यदि हम योग ,ध्यान ,प्राणायाम करेंगे तो हमारे मस्तिष्क में धीरे-धीरे बदलाव आएगा और हमारी सोच सकारात्मक होगी जो हमारा तनाव कम करेगी नकारात्मक सोच हमें तनाव में ले जाती है।  रामकृष्ण मिशन मठ एवं सेवा आश्रम के सचिव स्वामी नित्यशुद्धानंद महाराज ने कहा कि मनुष्य के लिए उसका स्वास्थ्य सबसे ज्यादा कीमती है। क्योंकि मनुष्य स्वस्थ रहकर समाज में कई सामाजिक और जनकल्याण कार्य कर सकता है। उन्होंने सात दिवसीय शिविर में स्वास्थ संबंधी विभिन्न विषयों पर हुए मंथन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि हम अपने जीवन में अपनी कार्यशैली में बदलाव लाकर स्वस्थ रह सकते हैं और जीवन में आहार विचार व्यवहार का ध्यान रखें। वरिष्ठ चिकित्सक डॉक्टर समरजीत चैधरी ने कहा कि सात दिवसीय योग स्वास्थ्य शिविर बहुत ही उपयोगी रहा है और इससे हमें कई नई जानकारियां मिली हैं जो मरीजों के स्वास्थ्य में सुधार के लिए उपयोगी साबित होंगी। योग और नियमित जीवन शैली पर प्रकाश डालते हुए स्वामी दयाधिपानंद महाराज डॉ शिवकुमार ने कहा कि प्राणायाम ध्यान और योग की विभिन्न मुद्राएं करके हम अपने जीवन में तनाव मुक्त हो सकते हैं। जिला मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सरोज नैथानी ने कहा कि मनुष्य के जीवन में उत्तम स्वास्थ्य उसके लिए आभूषण की तरह है आज हम अपनी जीवनशैली में बदलाव और खानपान की वजह से बीमारियों को न्योता दे रहे हैं इसलिए हमें अपनी जीवनशैली और खानपान में अपने स्वास्थ्य के प्रति सजग रहते हुए सुधार करना चाहिए। उन्होंने योग स्वास्थ्य शिविर को बहुत ही उपयोगी बताया। इस अवसर पर स्वामी दयाधिपानंद महाराज डॉ शिवकुमार ने डॉक्टर सुशील कुमार शर्मा उनकी पत्नी श्रीमती प्रतिभा शर्मा और मुख्य चिकित्सा अधिकारी श्रीमती सरोज नैथानी को रुद्राक्ष की माला भेंट कर सम्मानित किया और उनका आभार जताया। इस अवसर पर शिविर में चिन्मय मिशन ट्रस्ट के अध्यक्ष अवकाश प्राप्त कर्नल राकेश सचदेवा, श्रीमती साधना सचदेवा, डॉ कुलदीप डॉक्टर नवीन कुमार ,नर्सिंग स्टाफ की डायरेक्टर मिनी योहान्नन, गोकुल समेत मिशन के कई वरिष्ठ चिकित्सकों और अन्य कर्मियों तथा स्थानीय लोगों ने भाग लिया कार्यक्रम का संचालन स्वामी दयाधिपानंद महाराज डॉ शिवकुमार ने किया।