ALL political social sports other crime current religious administrative
राष्ट्रीय वेबिनार के माध्यम से सात दिवसीय योग सप्ताह का शुभारम्भ
June 15, 2020 • Sharwan kumar jha • other

हरिद्वार। पतंजलि विश्वविद्यालय के कुलाधिपति योगऋषि स्वामी रामदेव एवं कुलपति आचार्य बालकृष्ण की सद्पे्ररणा से छठवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में ‘मानसिक-शारीरिक प्रतिरोधक क्षमता के लिए योग, आयुर्वेद एवं अन्य भारतीय पद्वतियाँ’ विषय पर पतंजलि विश्वविद्यालय द्वारा राष्ट्रीय वेबिनार के माध्यम से सात दिवसीय योग सप्ताह का प्रारंभ हुआ। कार्यक्रम का शुभारंभ विश्वविद्यालय के प्रति कुलपति एवं मुख्य अतिथि डाॅ. महावीर अ्रग्रवाल ने वैदिक संस्कृति एवं वर्तमान परिप्रेक्ष्य में इसकी उपयोगिता का उल्लेख करते हुए विद्यार्थियों, शोधर्थियों, योग साधकों से इस लाईव सत्र में जुड़ने का आह्वान किया एवं कोरोना जैसे महारोग से लड़ने के लिए आयुर्वेद एवं योग के प्रयोग पर भी प्रकाश डाला। सहायक कुलानुशासक तथा इस कार्यक्रम के संयोजक स्वामी परमार्थदेव ने आज के लाईव सत्र के सभी मूधर््ान्य वक्ताओं का स्वागत एवं परिचय कराते हुए कार्यक्रम की सम्पूर्ण रूपरेखा प्रस्तुत की। उन्होंने बताया कि उक्त कार्यक्रम में कुल 30 सत्र रखे गए हैं जिनमें प्रतिदिन 5 सत्र होंगे तथा कार्यक्रम का समापन 21 जून को छठवें विश्व योग दिवस के अवसर पर योगऋषि स्वामी रामदेव के पावन सान्निध्य में योेगाभ्यास एवं आशीर्वाद सत्र से सम्पन्न होगा। कार्यक्रम में देश के ख्यातिलब्ध प्राकृतिक चिकित्सा विशेषज्ञ एवं योगग्राम-निरामयम के निदेशक डाॅ. नागेन्द्र कुमार ‘नीरज’ ने प्राकृतिक चिकित्सा के माध्यम से रोग प्रतिरोध्ी क्षमता बढ़ाने पर अपने महत्वपूर्ण अनुभव साझा करते हुए हमारे जीवन में आहार-विहार, विचार, व्यवहार एवं संस्कार की प्रासंगिकता पर विस्तार से प्रकाश डाला। अगले सत्र में संगीत विभाग के शिक्षक  चन्द्रमोहन मिश्रा ने मानसिक शांति के लिए विभिन्न राग का सैद्वान्तिक परिचय कराते हुए उसकी प्रायोगिक प्रस्तुति भी दी। ‘तेरी हर मुश्किल आसान, मिले जब ये गुरु से ज्ञान’ भजन की प्रस्तुति ने कार्यक्रम में उपस्थित महानुभावों का मन मोह लिया। चैथे सत्र में आई.आई.टी. रूड़की के सेवानिवृत्त प्रोपफेसर एवं पतंजलि विश्वविद्यालय के संकायाध्यक्ष डाॅ. वी.के. कटियार ने विषाणु संक्रमण में प्राणायाम की उपयोगिता तथा श्वसन यांत्रिकी की वैज्ञानिक व्याख्या प्रस्तुत की। इस अवसर पर बी.ए. एवं बी.एस.सी. प्रथम वर्ष के विद्यार्थियों ने भी अपने उत्कृष्ट योग प्रदर्शन का वीडियो साझा किया। योग सप्ताह के प्रथम दिवस पर पतंजलि विश्वविद्यालय सहित अनेक शिक्षण संस्थानों के विद्यार्थियों व योग साधकों ने सहभागिता की। कार्यक्रम संयोजन में स्वामी सोमदेव, डाॅ. नरेन्द्र, डाॅ. अभिषेक, कपिल, मनीष ने सक्रिय सहयोग प्रदान किया।