ALL political social sports other crime current religious administrative
रोडवेज कर्मचारी संयुक्त परिषद ने की बस चालक-परिचालकों को पीपीई किट देने की मांग
May 18, 2020 • Sharwan kumar jha • administrative

हरिद्वार। उत्तराखंड परिवहन निगम में ड्यूटी पर तैनात चालकों,परिचालकों को पीपीई किट देने की मांग सहित अन्य मांगो के समाधान की मांग रोडवेज कर्मचारी संयुक्त परिषद ने की है। कर्मचारियों ने दो माह से रुका वेतन दिलायें जाने को लेकर भी अधिकारियों से वार्ता की है। इन दिनों श्रमिक स्पेशल टेªनों से आने वाले प्रवासियों सहित बाहरी राज्यों से उत्तराखंड लाए जा रहे लोगों को उनके गृह जिलों तक पहुंचाने के लिए रोडवेज कर्मचारी भी दिन रात ड्यूटी पर डटे हुए हैं। ट्रेन से पहुंचने के बाद बसों से ही प्रवासियों को भेजा जा रहा है। लेकिन कोरोना संक्रमण के खतरे के बावजूद चालक-परिचालक बिना पीपीई किट के प्रवासियों को उनके गंतव्य तक लेकर जा रहे हैं। रोडवेज कर्मचारी संयुक्त परिषद के शाखा अध्यक्ष जल सिंह ने कहा कि रोडवेज कर्मचारी अपनी जान दांव पर लगाकर ड्यूटी कर रहे हैं। कोई सुरक्षा के उपकरण न होने से संक्रमण का डर सता रहा है। बसों से प्रवासियों को लेकर जा रहे चालक-परिचालकों की सुरक्षा के लिए पीपीई किट दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि रोडवेज कर्मचारी सरकार के आदेशों का पूरा पालन करते हुए प्रवासियों को उनके घरों तक पहुंचाने का काम कर रहे हैं। ऐसे में बीते दो माह से वेतन न मिलने के कारण कर्मियों के सामने बड़ी दिक्कतें खड़ी हो गई हैं। जल्दी सबका वेतन दिया जाना चाहिए। मंत्री दीपचंद ने बताया कि अधिकारियों से वेतन को लेकर वार्ता कर मांग की गई है। अभी कोई आश्वासन भी नहीं मिला है। मार्च और अप्रैल माह का वेतन न मिलने से ड्यूटी पर आने में भी परेशानी हो रही है। क्योंकि वाहन में तेल डलवाने तक के पैसे कर्मियों के पास नहीं है। राशन, दूध वाले भी पिछले माह का भुगतान करने पर ही सामान देने की बात कह रहे हैं। उधर, सहायक महाप्रबंधक प्रतीक जैन का कहना है कि वेतन मुख्यालय से ही जारी नहीं हुआ है। कर्मचारियों की अन्य समस्याओं का लगातर समाधान करने का प्रयास किया जा रहा है।