ALL political social sports other crime current religious administrative
सरकार पर कोरोना संकट को संभालने में विफल रहने का आरोप दिया युकां ने धरना
June 2, 2020 • Sharwan kumar jha • political

हरिद्वार। युवक कांग्रेस कार्यकत्र्ताओं ने सरकार पर कोरोना संकट को संभालने में विफल रहने का आरोप लगाते हुए धरना दिया। इस दौरान कार्यकत्र्ताओं ने विभिन्न राज्यों से वापस लौट रहे प्रवासियों के लिए उचित व्यवस्था करने की मांग की। कृष्णानगर स्थित मेयर कार्यालय पर दिए गए धरने में मेयर प्रतिनिधि अशोक शर्मा भी शामिल हुए। धरने का संबोधित करते हुए यूवक कांग्रेस के कार्यकारी जिला अध्यक्ष रवि बहादुर इंजीनियर ने कहा कि सरकार कोरोना संकट को संभाल पाने में पूरी तरह विफल साबित हुई है। विभिन्न राज्यों से वापस उत्तराखण्ड लौट रहे प्रवासियों के लिए जांच, क्वारंटाईन आदि की उचित व्यवस्था तक नही की जा रही है। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि प्रवासियों की स्वास्थ्य जांच के साथ क्वारंटाईन सेंटरों में उनके भोजन आदि की उचित व्यवस्था की जाए। दो महीने के लाॅकडाउन में प्रदेश सरकार कोरोना संकट से निपटने के लिए पर्याप्त इंतजाम कर पाने में भी नाकाम रही है। रवि बहादुर ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता व पदाधिकारी क्वारंटाइन का ही उल्लंघन कर रहे हैं। जो गाइड लाइन प्रशासन ने जारी की हैं। उनका पालन किया जाना चाहिए। मेयर प्रतिनिधि पूर्व सभासद अशोक शर्मा ने कहा कि कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। प्रवासियों को सही सुविधाएं सरकार द्वारा ना दिया जाना सरकार की लचर प्रणाली का दर्शा रहा है। लोगों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ किया जा रहा है। राशन वितरण कार्यक्रमों में सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन भाजपा कार्यकर्ता कर रहे हैं। अशोक शर्मा ने कहा कि महामारी के कारण बेरोजगार हुए लोगों के लिए मनरेगा जैसी योजनाओं के तहत रोजगार की व्यवस्था करनी चाहिए। हिमांशु बहुगणा व सुमित भाटिया ने कहा कि छोटे मझोले व लघु व्यापारियों को रोजगार के अवसर दिए जाने चाहिए थे। मजदूर हताशा व निराशा का सामना कर रहा है। सरकार पूरी तरह से विफल साबित हुई।