ALL political social sports other crime current religious administrative
शाहिद की हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने दो आरोपियों को किया गिरफ्तार
June 1, 2020 • Sharwan kumar jha • crime

हरिद्वार। पथरी थानाक्षेत्र में चार दिन पूर्व हुई हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया,पुलिस के अनुसार दोनो आरोपी नशे के आदी थे और चोरी के ईरादें से मृतक के गोदाम में घुसे थे,दीवार से एलईडी उखाड़ते समय चैकीदार शाहिद की आंख खुल गई और उसने इसका विरोध किया। उसी दौरान ईंट से सिर पर वार कर उसकी हत्या कर दी गई। हत्या का खुलासा करते हुए पथरी थाने की पुलिस और एसओजी टीम ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया। इस सम्बन्ध में एसएसपी सेंथिल अवूदई कृष्णराज एस ने सोमवार को रोशनाबाद स्थित पुलिस कार्यालय में पत्रकारांे से वार्ता करते हुए बताया कि ज्वालापुर निवासी स्क्रैप कारोबारी अफजल ख्वाजा के एक्कड़ गांव के पास स्थित गोदाम पर उनका रिश्ते का भाई शाहिद देखभाल के लिए रहता था। रात में शाहिद ही गोदाम के अंदर रहता था। बीते गुरुवार को गोदाम खोलने पर शाहिद का खून से लथपथ शव मिला था। गोदाम से कुछ सामान भी गायब मिला। प्रथम दृष्टया चोरी व हत्या का मामला मानकर अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। पथरी थानाध्यक्ष सुखपाल मान और एसओजी प्रभारी राजीव चैहान ने अपनी-अपनी टीमों के साथ मिलकर छानबीन शुरू की। मुखबिर तंत्र से लेकर सर्विलांस तक का सहारा लिया गया। आखिरकार पुलिस के हाथ हत्यारों के गिरेबान तक पहुंच गए। पुलिस ने सराय गांव निवासी मुकर्रम और शहजाद को हिरासत में लेकर पूछताछ की। उन्होंने चोरी व हत्या कुबूल करते हुए सामान भी बरामद कराया। एसएसपी ने बताया कि दोनों नशेड़ी हैं और गोदाम के पास वाले बाग में अक्सर नशा करते थे। 26-27 मई की रात में दोनों नशेड़ी पेड़ पर चढ़कर चोरी के इरादे से गोदाम में घुसे थे। उसी दौरान शाहिद की आंख खुल गई और उसने विरोध किया और दोनों ने मिलकर उसकी हत्या कर दी। उनके कब्जे से गोदाम से चोरी हुई एलईडी, गैस सिलेंडर, मोबाइल, लोहा काटने वाला ग्राइंडर व लगभग 25 किलो एल्यूमीनियम बरामद हुआ है। चार दिन में ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी सुलझाने पर एसएसपी ने पुलिस टीम को शाबाशी दी। सीओ राजन सिंह के निर्देशन व पथरी थानाध्यक्ष सुखपाल मान के नेतृत्व में पथरी थाने की पुलिस टीम खुलासे में जुटी रही। एसओजी प्रभारी राजीव चैहान व उनकी टीम ने भी काफी मदद की। पत्रकार वार्ता में एसपी देहात स्वप्न किशोर सिंह, सीओ राजन सिंह, पथरी थानाध्यक्ष सुखपाल मान, एसओजी प्रभारी राजीव चैहान, फेरुपुर चैकी प्रभारी उमेश कुमार आदि मौजूद रहे। जबकि खुलासा करने वाली पुलिस टीम में उपनिरीक्षक गजेंद्र सिंह, हेडकांस्टेबल नंद किशोर, सुखविद्र, राजाराम, हमीद खान, मनोहरी, दिनेश, प्रमोद, हुकुम, अनिल, हरिराज, संदीप, बिशन अनिल, दीपक, विनोद व निरंजन और एसओजी से प्रभारी राजीव चैहान, हेडकांस्टेबल सुंदर लाल, हरवीर, शशिकांत, उमेश, नरेंद्र, मनोज व पदम आदि शामिल रहे।