ALL political social sports other crime current religious administrative
श्रमिकों को सुरक्षित गंतव्य की ओर भेजने की मांग
May 9, 2020 • Sharwan kumar jha • social

हरिद्वार। सेवा समिति के पूर्व अध्यक्ष हरिराम कुमार ने स्वयंसेवी संगठनों के साथ ही सरकार से मांग की है कि सड़कों तथा रेलवे लाइनों के रास्ते पैदल ही अपने घरों को जा रहे श्रमिकों को वाहन और भोजन उपलब्ध कराकर सुरक्षित उनके घरों तक पहुंचाएं। उन्होंने संपूर्ण भारतीय जनमानस से अपील की है कि भारतीय संस्कृति एवं संवेदनाओं को जीवंत कर भूख प्यास से सड़कों पर तड़प तड़प कर दम तोड़ रही मानवता की उदार हृदय से सहायता करें। पूर्व सभासद सीनियर सिटीजन हरिराम कुमार ने महाराष्ट्र के रेल हादसे मे हुई सोलह मजदूरो की हत्या पर देश और समाज की बदतर हो चुकी हालत पर संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि लाकडाउन की लंबी अवधि तक इंतजार करने के बाद जब श्रमिकों के पास धन समाप्त हो गया और उन्हें भोजन देने वाला कोई नजर नहीं आया तो उन्होंने सरकार ,प्रशासन एवं उन संस्थाओं से अनुनय विनय किया जिनमें वे अपनी सेवाएं दे रहे थे। जब कहीं से कोई सहारा नहीं मिला तो बेचारे पैदल ही अपने प्रदेशों की ओर निकल पड़े। लेकिन हद तो तब हो गई जब पुलिस वालों ने उन पर लाठियां भांजी और सरकारी तंत्र ने उन्हें यह कहकर वापस कर दिया कि जो जहां है वहीं रहेगा।