ALL political social sports other crime current religious administrative
स्कैप चैनल सम्बन्धी अध्यादेश को खत्म करने की मांग को लेकर आप कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन
October 3, 2020 • Sharwan kumar jha • other

हरिद्वार। स्केप चैनल घोषित की गयी गंगा की अविरल धारा को पुनः गंगा घोषित करने की मांग को लेकर आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने जोन इंचार्ज आॅक्सीमीटर मनोज द्विवेदी के नेतृत्व में चंद्राचार्य चैक पर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। इस दौरान मनोज द्विवेदी ने कहा कि करोड़ों श्रद्धालुओं की आस्था की प्रतीक गंगा को लेकर सरकार की हठधर्मिता के खिलाफ आम आदमी पार्टी को सड़कों पर उतरने के लिए बाध्य होना पड़ रहा है। मनोज द्विवेदी ने कहा कि गंगा को स्केप चैनल घोषित करने वाले तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत इस संबंध में संतों के समक्ष क्षमायाचना कर चुके हैं। इसके बावजूद हिंदुवादी बीजेपी सरकार गंगा को स्केप चैनल घोषित करने वाले अध्यादेश को बदलने के लिए तैयार नही है। जिससे करोड़ों श्रद्धालुओं की भावनाएं आहत हो रही है। गंगा को लेकर श्रद्धालुओं में भ्रम की स्थिति बन रही है। यदि प्रदेश की भाजपा सरकार ने जल्द से जल्द अध्यादेश को नहीं बदला तो पूरे प्रदेश में जनआंदोलन किया जाएगा। आप प्रवक्ता महक सिंह सैनी ने कहा कि कांग्रेस सरकार द्वारा गंगा को स्केप चैनल घोषित करने के मुद्दे को बीजेपी ने चुनाव में खूब भुनाया। लेकिन सरकार बनने के बाद अध्यादेश पर चुप्पी साध कर बैठ गयी। जो गलती कांग्रेस सरकार ने की। साढ़े तीन साल से बीजेपी वहीं गलती कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस सरकार की तरह बीजेपी सरकार भी चंद लोगों के फायदे के लिए करोड़ों हिन्दुओं की आस्था के साथ मां गंगा के आस्तित्व के साथ खिलवाड़ कर रही है। नवीन मारिया व नवीन कौशिक ने कहा कि जल्द से जल्द अध्यादेश रद्द कर हरकी पैड़ी पर बह रही धारा को गंगा घोषित किया जाए। प्रदर्शन करने वालों में अमित कुमार, सुरेश तनेजा, ओपी मिश्रा, प्रवीण सिंह, अनिल, ममता सिंह, यशपाल चैहान, महावीर सिंह, साहिल हसरत, संजीव, सुरेश तनेजा आदि कार्यकर्ता शामिल रहे।