ALL political social sports other crime current religious administrative
सुप्रयास का सबल प्रयास कोई नही रहे भूखा,अनवरत जारी है सेवा
May 7, 2020 • Sharwan kumar jha • social

हरिद्वार। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस लाॅकडाउन के दौरान भीमगोड़ा क्षेत्र की शिक्षा, स्वास्थ्य व समाजोत्थान सेवा में कार्य कर रही संस्था सुप्रयास निरंतर निर्बल वर्ग के लोगों की सेवा में जुटी हुई है जो निरंतर तीसरे चरण में भी जरूरतमंदों को बना बनाया भोजन वितरित कर रही हैं। संस्था के महामंत्री डॉ. सत्यनारायण शर्मा का कहना है कि हमारी संस्था लगातार लाॅकडाउन शुरू होते ही भोजन वितरण के कार्यक्रम में लगी हुई है और इस तीसरे चरण में भी हम 17 मई तक भोजन वितरण का कार्यक्रम करेंगे। यदि भगवान ने चाहा तो हम इसको आगे भी चलाते रहेंगे। इस संस्था के भोजन वितरण कार्यक्रम में पहुचे मेयर पति अशोक शर्मा ने संस्था की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि मैंने कई संस्थाओं को भोजन वितरण के कार्यक्रम में भोजन वितरण करते देखा है लेकिन इस संस्था में सभी लोग, सभी महिलाएं निःस्वार्थ भाव से खाना बनानेे और वितरण करने में लगे हुए हैं ऐसा मैंने पहली बार देखा। संस्था कर्मठ सदस्य नीरज ममगई का कहना है कि हम रोजाना हजारों लोगों को घर-घर खाना पहुंचा रहे है। भोजन प्रसाद वितरण एवं भोजन बनाने में समरपाल सिंह, राकेश बलूनी, उमेश गिरी, महावीर खेरोला, सचिन गोयल व संजीव वर्मा के नेतृत्व में रमेश रतूड़ी, नवल किशोर गुप्ता, चिरंजीव दुबे, जगत सिंह चैहान, सच्चिदानंद भट्ट, सचिन मोहन, राकेश बलूनी, आशीष जैन, अनुज माहेश्वरी, राकेश अग्रवाल, बबलू गिरि, सौरभ भसीन, योगेश बंटी, धीरज पचभैया, अभिषेक शर्मा, आकाश शर्मा, नारायण शर्मा, प्रियंकुश गिरी, आशुतोष अरोड़ा, अजय जोशी, सुदामा पुरोहित, मनोज गिरी, रविन्द्र मिश्रा, डॉ. अनिरुद्ध पोरवाल, नवीन शर्मा, डॉ. शिवमनारायन शर्मा, सुनील आनंद, डॉ सत्यनारायण शर्मा, अंकित गिरी, कौशल कारीगर, पिंटू गिरी, महिपाल, नीरज, कन्हैया कारीगर, गणेश गिरी सहित श्रीमति उषा गुप्ता, श्रीमती रानी गुप्ता, श्रीमती उमा बिष्ट, श्रीमती कविता दुबे, श्रीमती आशा गुप्ता, श्रीमती नीतू अरोड़ा, श्रीमती साधना बाजपेयी, श्रीमती राधा गिरी, श्रीमती संगीता रतूड़ी, श्रीमती सुमनलता पुरोहित,श्रीमती विनीता बलूनी, नीता, कु. मानसी बाजपेयी, श्रीमती संतोष गिरि, कु. सोनिया अरोड़ा, कु. प्रीति, श्रीमती सविता, कु. सोनिया चैहान, कु. पायल चैहान, श्रीमती वंदना शर्मा, श्रीमती लता शर्मा, श्रीमती पूनम गिरी अपना महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं।