ALL political social sports other crime current religious administrative
टीवी चैनल के पत्रकार के खिलाफ मुकद्मा दर्ज करने की मांग की
June 19, 2020 • Sharwan kumar jha • other

हरिद्वार। अंजुमन गुलामाने मुस्तफा सोसायटी के पदाधिकारियों ने ज्वालापुर कोतवाली प्रभारी को शिकायती पत्र देकर पत्रकार अमिश देवगन पर हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के प्रति अपमानजनक शब्दों का प्रयोग करते हुए अभद्र टिप्पणी करने का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज करने की मांग की है। इस दौरान हाजी नईम कुरैशी व हाजी शफी खान ने कोतवाली प्रभारी को बताया कि पत्रकार अमिश देवगन ने चैनल पर प्रसारित एक डिबेट के दौरान हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के प्रति आक्रांता, हमला करने वाला, लूटेरा चिश्ती जैसे शब्दों का प्रयोग कर उन्हें अपमानित करने के साथ सर्वधर्म समभाव को भी ठेस पहुंचाने का काम किया है। ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती विश्व प्रसिद्ध सूफी संत तथा सर्वधर्म के लिए आस्था का प्रतीक हैं। मुसलमानों के अलावा हिन्दू व अन्य धर्मावलम्बी अजमेर स्थित उनकी दरगाह में शीश नवाते हैं। समाचार चैनल पर उनके प्रति की गयी अशोभनीय टिप्पणी से पूरे विश्व के श्रद्धालुओं की भावनाएं आहत हुई हैं। शादाब कुरैशी व हाजी गुलजार ने कहा कि मीडिया समाज को आईना दिखाने का काम करती है। लेकिन कुछ मीडियाकर्मी धर्म आधारित भेदभाव को बढ़ावा देने का काम कर रहे हैं। हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन जैसे विश्व विख्यात सूफी संत के प्रति अपमानजनक टिप्पणी करने वाले चैनल के पत्रकार के खिलाफ तत्काल मुकद्मा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया जाए। अनीस खान व रफी खान ने कहा कि दरगाहें हमेशा ही सौहार्द व एकता का पैगाम देती चली आ रही हैं। सभी धर्म समुदाय के लोग हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह जियारत करने आते हैं। लेकिन टीवी चैनल के पत्रकार द्वारा अशोभनीय अपशब्दों का प्रयोग कर उन्हें अपमानित करने का प्रयास किया गया। जिसे किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।