विभिन्न मांगो को लेकर रोडवेज कर्मचारियों की हड़ताल 17 से
March 11, 2020 • Sharwan kumar jha

हरिद्वार। रोडवेज कर्मचारियों ने विभिन्न मांगों को लेकर 17 मार्च से हड़ताल पर जाने की रणनीति तय की है। प्रदेशव्यापी हड़ताल को सफल बनाने के लिए बैठक में आह्वान किया गया। इसके साथ ही मांगों पर चर्चा की। मांगें पूरी नहीं होने पर आंदोलन को उग्र करने की चेतावनी दी गई।  हरिद्वार बस अड्डा स्थित कार्यालय में बुधवार को रोडवेज कर्मचारी संयुक्त परिषद की बैठक हुई। इसमें प्रांतीय पदाधिकारियों ने पहुंचकर कर्मचारियों से चर्चा की। प्रांतीय महामंत्री दिनेश पंत ने कहा कि लंबित चल रही 11 सूत्रीय मांगों को अगर परिवहन प्रबंधन ने जल्द पूरा नहीं किया तो 17 मार्च की मध्यरात्रि से सभी कर्मचारी हड़ताल कर चक्का जाम करने को मजबूर होंगे। इसमें प्रदेशभर की बसों के पहिये जाम होंगे।कहा कि शासन रोडवेज कर्मचारियों की मांगों को लेकर गंभीर नजर नहीं आ रहा है। ऐसे में आंदोलन की रणनीति तय की गई है। शाखा अध्यक्ष जल सिंह ने कहा कि कर्मचारियों की मांगों को लेकर संघर्ष किया जाएगा। संगठन के आह्वान पर सभी कर्मचारी इसमें शामिल होंगे। अगर मांगों पर कोई निर्णय नहीं लिया गया तो 17 की मध्य रात्रि से सभी हड़ताल पर चले जाएंगे। मंत्री दीपचंद ने कहा कि रोडवेज कर्मचारी लंबे समय से अपनी मांगों को लेकर संघर्ष करते आ रहे हैं। लेकिन प्रबंधन कोई ध्यान देने को तैयार नहीं है। अब कर्मचारी आर-पार की लड़ाई लड़ेंगे। बैठक में प्रांतीय उपाध्यक्ष वेद प्रकाश, सौराज सिंह,जगपाल सिंह, जयपाल सिंह, विनोद कुमार, मोहर, संदीप कुमार, राजपाल सिंह, प्रेम सिंह रावत, संत कुमार त्यागी, नवल किशोर, सुभाष चंद, दिनेश सती, भोला जोशी, प्रकाश, राजेंद्र सिंह, राकेश मोहन, मामराज आदि शामिल रहे।