ALL political social sports other crime current religious administrative
विभिन्न संगठनों ने हाथरस कांड में न्याय दिलाने के लिए निकाली रैली,किया प्रदर्शन
October 7, 2020 • Sharwan kumar jha • current

हरिद्वार। हाथरस काण्ड को लेकर दलित समाज में उपजा रोष शांत होने का नाम नहीं ले रहा है। वाल्मिीकि समाज के विभिन्न संगठनों के संयुक्त संघर्ष मोर्चे के तले एकजुट हुए वाल्मिीकि समुदाय के लोगों ने पीड़िता व उसके परिवार को न्याय दिलाने के लिए पुल जटवाड़ा से चंद्राचार्य चैक तक रैली निकालकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के बाद फास्टट्रैक कोर्ट में मुकद्मा चलाकर दोषियों को जल्द से जल्द फांसी की सजा, परिवार को एक करोड़ रूपए सहायता, एक सदस्य को सरकारी नौकरी व गांव के बाहर आवास उपलब्ध कराए जाने आदि मांगों को लेकर राष्ट्रपति को ज्ञापन पे्रषित किया गया। चंद्राचार्य चैक पर प्रदर्शन के दौरान अखिल भारतीय सफाई मजदूर कांग्रेस ट्रेड यूनियन के महानगर अध्यक्ष आत्माराम बेनीवाल, अखिल भारतीय वाल्मिीकि महापंचायत के प्रदेश अध्यक्ष सागर बेनीवाल व चमार वाल्मिीकि महासंघ के प्रदेश संयोजक राजेंद्र श्रमिक ने कहा कि हाथरस में वाल्मिीकि समाज की बेटी पर हुए बर्बर अत्याचार को लेकर पूरे देश के दलित व पिछड़े समाज में रोष तथा असुरक्षा का माहौल है। घटना के बाद पीड़िता को सही ढंग से उपचार तक नहीं उपलब्ध कराया गया। जिसके चलते उसकी मौत हो गयी। पीड़िता की मौत के बाद उसके परिवार को अंतिम संस्कार तक नहीं करने दिया गया। धार्मिक मान्यताओं के विपरीत पुलिस ने आधी रात को पीड़िता का शव जला दिया गया। उन्होंने कहा कि दलित बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए समाज किसी भी संघर्ष से पीछे नहीं हटेगा। उत्तराखण्ड स्वच्छकार कर्मचारी महासंघ के जिला अध्यक्ष सुनील राजौर, दलित आर्मी के प्रदेश अध्यक्ष नवीन तेश्वर ने कहा कि वाल्मिीकि समाज की बेटी पर हुए अत्याचार व उसकी मौत को लेकर समाज का प्रत्येक व्यक्ति दुखी व आक्रोशित है। यूपी सरकार को कठोर कदम उठाते हुए पीड़िता व उसके परिवार को न्याय दिलाना चाहिए। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि पीड़िता व उसके परिवार को न्याय नहीं मिला तो वाल्मिीकि समाज पूरे देश में आंदोलन करने को बाध्य होगा। नितिन तेश्वर व रवि बहादुर ने कहा कि बेटियों को सुरक्षा देने में यूपी सरकार पूरी तरह नाकाम हो चुकी है। उन्होंने कहा कि यदि हाथरस की पीड़िता वाल्मिीकि समाज की बेटी को न्याय दिलाने के लिए संकल्पबद्ध वाल्मिीकि समाज किसी भी संघर्ष से पीछे नहीं हटेगा। प्रदर्शन में पार्षद व उत्तराखण्ड देवभूमि सफाई कर्मचारी संघ के संरक्षक विनित जौली, महादलित परिसंघ के प्रदेश अध्यक्ष राजेश बादल, राष्ट्रीय दलित पिछड़ा वर्ग के अध्यक्ष अनमोल बिरला, भावाधस के जिला संयोजक संदीप चिनालिया, क्रांतिकारी अंबेडकर सेना के जिला अध्यक्ष प्रदीप बोहत, राष्ट्रीय सफाई मजदूर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नरेश चनियाना, वरिष्ठ समाजसेवी राजेंद्र चुटेला सहित बड़ी संख्या में युवा वर्ग व महिलाएं शामिल रही।