ALL political social sports other crime current religious administrative
यूकेडी की मांग कांवड़ मेला स्थगित होने पर व्यापारियों को मिले आर्थिक सहायता
July 4, 2020 • Sharwan kumar jha • other

हरिद्वार। उत्तराखण्ड क्रांति दल के कार्यकर्ताओं ने जिला अध्यक्ष राजीव देशवाल के नेतृत्व में जिला अधिकारी के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन प्रेषित कर कांवड़ मेले से व्यापारियों को हुए नुकसान की भरपायी करने की मांग की है। ज्ञापन में प्रवासियों को रोजगार, महंगाई पर नियंत्रण लगाने व प्रत्येक परिवार को मदद दिए जाने की मांग भी की गयी है। यूकेडी जिला अध्यक्ष राजीव देशवाल ने कहा कि कोविड-19 के कारण उत्तराख्ण्ड की जनता, व्यापारी वर्ग व आम लोग कठिन दौर से गुजर रहे हैं। हरिद्वार में प्रतिवर्ष होने वाला कांवड़ स्थगित होने से स्थानीय व्याापारियों को भारी नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि कांवड़ मेले से जहां व्यापारी वर्ग को आय होती है। वहीं सरकार को भी राजस्व की प्राप्ति होती है। लेकिन कांवड़ मेला स्थगित कर दिए जाने से पहले से ही मंदी की मार झेल रहे व्यापारियों को गहरा झटका लगा है। इसलिए  कांवड मेला स्थगित किये जाने के कारण व्यापारियों को होने वाले नुकसान की भरपाई के रूप में प्रत्येक व्यापारी को केंद्र सरकार द्वारा घोषित किए गए 20 लाख करोड़े के पैकेज से 50हजार रूपए आर्थिक सहायता दी जाए। श्रम प्रकोष्ठ के अध्यक्ष रविन्द्र वशिष्ठ ने कहा कि होटल व्यवसायियों व व्यवासायिक वाहन मालिकों की लोन ईएमआई अगले एक वर्ष तक के लिये माफ की जाये। उत्तराखण्ड के युवा प्रवासियों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराये जायें। उत्तराखण्ड में मंह्गाई पर नियंत्रण के लिये सभी आवश्यक कदम उठाए जाएं। कोविड-19 के दौरान व्यय पूर्ती हेतु उत्तराखण्ड के प्रत्येक परिवार को रूपये 10 हजार रूपए प्रदान किए जाएं। ज्ञापन सौंपने वालों में उपाध्यक्ष सरिता पुरोहित, महामंत्री चैधरी बृजबीर सिंह, संगठ्न मंत्री दीपक गोनियाल, एमडी शर्मा, जिला उपाध्यक्ष प्रशांत खुराना, सचिन चैहान, तरुण, धर्मेंद्र यादव, प्रदीप त्यागी, अर्जुन पंवार, अजय शर्मा, हेमंत बिष्ट, शुभम अग्रवाल, सतपाल नेगी, एमडी तिवारी, मोहित सैनी, सुधीर रावत आदि कार्यकर्ता शामिल रहे।